Exclusive इंडिया वॉच

इंडिया वॉच

इश्वरी द्विवेदी, मालिक, इंडिया वॉच, लखनऊ


By Cobrapost.com - March 26, 2018

क्या आपको ये रिपोर्ट पसंद आई? हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं. हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें.

इंडिया वॉच एक डिजिटल प्लेटफॉर्म है, इस यू-ट्यूब चैनल पर लोगों की भरमार है, इंटरनेट की मदद से ऐसे न्यूज़ प्लेटफार्म जन-जन तक अपनी पकड़ बना चुके हैं।

लखनऊ से संचालित होने वाले इंडिया वॉच यू-ट्यूब चैनल के मालिक इश्वरी द्विवेदी हैं। जब पुष्प शर्मा ने इन्हें अपने हिंदुत्व एजेंडे के बारे में बताया और इनसे पूछा कि क्या आप इस एजेंडे के साथ काम करने में कम्फर्टएबल हैं तो इंटव्यू के दौरान द्विवेदी ने कहा, हिंदुत्व के एजेंडे में हम लोग पूरी तरह comfortable होंगे, हम खुद हिंदु हैं तो हिंदुत्व के एजेंडे में comfortable रहेंगे  पुष्प ने इनकी नब्ज टटोलने के लिए इनसे इनके चैनल की पहुंच के बारे में सवाल पूछ लिया, जिस पर द्विवेदी ने अपने अखबार का महिमामंडन कुछ इस तरह किया, 30.10.2015 ये भारत की हमारी पहली कंपनी है जिसे पंद्रह लाइसेंस हैं हमारे पास spiritual  का अलग हमारा अलग-अलग स्टेट का अलग है

इनसे बातचीत के दौरान पुष्प शर्मा ने इन्हें अपने कैंपेन से जुड़ी सभी जरूरतों के बारे में विस्तार से बता दिया जिसपर द्विवेदी ने कहा कि उन्हें इस हिंदुवादी कंटेंट को अपने यू-ट्यूब चैनल पर चलाने में कोई एतराज नहीं है। यहां तक कि ये अपने चैनल के माध्यम से पुष्प द्वारा बताए गए राजनीतिक प्रतिद्वंदियों को दबाने के लिए भी राजी हो गए जैसे समाजवादी पार्टी, कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी। पुष्प के सवाल पर इन्होंने तपाक से कहा, ना ना एतराज क्या हम तो हम लोग तो वो हिंदुत्व वाले जो बताया उन्होंने..हम लोग उसी व्यवस्था पर हैं  इंटरव्यू के दौरान इस बात का भी पता लगा कि द्विवेदी की शैक्षिक संस्थानों की श्रंखला है।

पुष्प ने द्विवेदी को बताया कि इस मीडिया कैंपेन के दौरान शुरूआती तीन महीने हम सिर्फ हिंदुत्व का एजेंडा चलाएंगे, हिंदुत्व का ये एजेंडा सांप्रदायिकता के आधार पर मतदाताओं को लुभाने में मददगार साबित होगा और अगर जरूरत पड़ी तो इसका इस्तेमाल दंगे भड़काने के लिए भी किया जाएगा। पुष्प ने अपने इस षड़यंत्र के बारे में बताने के बाद द्विवेदी से फिर पूछा कि क्या आप इस पर सहमत हैं, जवाब में द्विवेदी ने कहा, सबसे बड़ी चीज़ ये है कि जो आपका एजेंडा है हमारी जो पर्सनल सोच है इसे पूरा मैच करता हुआ है फाइनेंशियल जो वो तो ठीक है बिजनेस कर रहे हैं तो फाइनेशियल need है वो तो... लेकिन आपका जो प्रोजेक्ट है वो क्योंकि मैं झेला हुआ हूं तो मुझे बड़ा comfort है उसमें बातचीत के बाद आखिरकार द्विवेदी ने 50 लाख रुपये में ये डील पक्की कर दी।

द्विवेदी के साथ अपना इंटरव्यू खत्म करने से पहले पुष्प ने इनसे पूछा कि वो अपनी कंपनी के किस आदमी को इस काम के लिए लगाएंगे जो कि पुष्प के साथ एक सुचारू बातचीत करता रहे ताकि अभियान को वक्त की जरूरत के मुताबिक चलाया जा सके। इसपर द्विवेदी ने खुद को आगे रखते हुए कहा कि हमारे interest का विषय है इसलिए direct हम ही इस पर जुड़े रहेंगे। हमारे interest हमारे निजी तौर का है तो इसके लिए direct हम involve रहेंगे

इसके बाद पुष्प शर्मा ने द्विवेदी से पैसे से लेन-देन पर चर्चा करते हुए कहा कि वो 60-40 के ratio में पैसा देंगे और कंपनी के साथ एक कॉट्रेक्ट भी साइन किया जाएगा जिसपर पैसा सिर्फ व्हाइट में देने की बात दर्ज होगी और कैश के जरिए दिए जाने वाले पैसे को गुप्त रखा जाएगा। इस पर द्विवेदी ने इसी तरह के कॉट्रेक्ट का खुलासा किया जो उन्होंने पहले बीजेपी के साथ किया था। बीजेपी के टेंडर में जो हुआ इस बार उसी तरह से। टेंडर से आप समझ ही गए होंगे कि ये कॉट्रेक्ट के बारे में कह रहे हैं।

इंडिया वॉच के मालिक द्विवेदी को पहले ही वो जिंगल दिखा दिया गया था जिसमें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का मजाक उड़ाया गया था। अब पुष्प ने इन्हें बताया कि हमारे कैंपेन का तीसरा हिस्सा बीजेपी के राजनीतिक प्रतिद्वंदियों को खत्म करने का है जैसे कांग्रेस, सपा और बसपा। इसके लिए जो जिंगल अभी आपने सुना इसी तरह के कंटेट का इस्तेमाल करना पड़ेगा। ये सुनने के बाद द्विवेदी अपने उत्साह को रोक नहीं पाए और कहने लगे, बहुत बढ़िया ये तो हमारे interest का ट्रेफिक ले आएगा। बहुत इसको करने में आनंद आएगा। To see reactions of concerned person click here


क्या आपको ये रिपोर्ट पसंद आई? हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं. हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें.

Tag : इंडिया वॉच ,

Loading...

चर्चित खबरें

एक्सक्लूसिव