Monday 17th of December 2018
दैनिक जागरण
136-Part-1

दैनिक जागरण

cobrapost |
March 26, 2018

संजय प्रताप सिंह, एरिया मैनेजर (Bihar, Jharkhand, Odisha)


साल 1942 में आजादी की लड़ाई के दौरान शुरू हुआ हिन्दी अखबार दैनिक जागरण पिछले पच्चीस साल से भारत का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला दैनिक हिन्दी अखबार है। World Association of Newspapers (WAN) के मुताबिक दैनिक जागरण दुनिया के सबसे ज्यादा पढे जाने वाले अखबारों में से एक है। circulation के मामले में भी दैनिक जागरण भारत में दूसरे पायदान पर है। अपनी तहकीकात को आगे बढ़ाते हुए पत्रकार पुष्प की मुलाकात दैनिक जागरण अखबार के एरिया मैनेजर संजय प्रताप सिंह से हुई। संजय बिहार, झारखंड और Odisha में एरिया मैनेजर हैं। पुष्प शर्मा के हिंदुत्व एजेंडे को सुनने के बाद संजय ने पुष्प से कहा कि दैनिक जागरण हिंदुत्व के नाम से मशहूर है और ये आपके ऐजेंडे के लिए बेस्ट है।

पुष्प के डील के पेमेंट का बड़ा हिस्सा कैश में करने की बात पर भी दैनिक जागरण के संजय प्रताप सिंह न सिर्फ तैयार थे बल्कि बोले, हो जाएगा, Adjustment हो जाएगा”। संजय ने आगे पुष्प को आधा पेंमेंट कैश में कर GST से बचने का तरीका भी बताया और कहा, cash में आपका फायदा क्या होता है, जो भी होता है cash में एक तो आप दिखा नहीं पाएंगे...दूसरा क्या है कि उसमें हम लोग ... कर देंगे आपको, जो आपका GST का चक्कर है उससे भी बच जाएगा... Cash भी आता है तो 1 percent discount और जो हो सकता है वो भी हमें additional दे सकते हैं, तो ये सब factor हैंदेखिए हमारे को भी क्या होता है cheque लगा, एक नंबर में है तो वो बहुत सारा factor हम लोग देखते हैं”

बातचीत में संजय ने बताया कि बीजेपी विचारधारा की वजह से बिहार में पहले नितीश सरकार ने इनके विज्ञापन बंद कर दिये थे। संजय ने कहा, बिहार में तो 6 महीने विज्ञापन बंद था, फिर भी हम लोगों ने हिम्मत नहीं हारा और 6 महीना हम आपको बता रहे हैं 6 महीने 5 करोड़ वहां 1 करोड़ यहां, एक करोड़ यहां loss हुआ होगा... आराम से... ढेड़ करोड़ का यहां Loss था और बिहार में 19 करोड़ का loss था, हम लोगों ने 20 करोड़ का  loss सहा लेकिन ऐसा नहीं है कि submit कर दिए”

संजय ने आगे बताया कि जब बिहार में बीजेपी की गठबंधन सरकार आई तो उनके अखबार को सरकारी विज्ञापन मिलने शुरू हो गए। संजय ने कहा, विचार धारा के साथ रहे और आपको ये भी बता दे रहे हैं कि हमारे editor और director हम लोग regular fly करते थे पटना, लोगों को support बनाए रखते थे, हुआ ये कि हम लोग commercial से डाल लेंगे फिर आई समय परिवर्तन हुआ BJP की सरकार गई.... एक दिन मैं एक जगह बैठा था, प्रभात खबर के लोग बैठे थे तो बोले की आप लोग तो घोषित कर दिए, हम बोल घोषित किए और आज आपके मुंह में मुठा घुसा कर के और अब हम विज्ञापन ले रहे हैं”

पुष्प के जिक्र करने पर संजय पश्चिम बंगाल में सरकार विरोधी खबरें करने के लिए के लिए तैयार थे और बोले, एक दम और दूसरा हम आपको कहां help करेंगे personally मेरे इतने सारे लोग हैं बंगाल में gents, ladies हर Form में हैं जो हर तरह का काम करते हैं, हर तरह का... आप जैसा बोलिएगा, अगर किसी के साथ सो के data लेना हो तो कर देंगे”।  

कैबिनेट मंत्रियों को टार्गेट करने के सवाल पर दैनिक जागरण के संजय प्रताप सिंह तुरंत बोले, वो भी हो जाएगा... सब हो जाएगा”। पुष्प ने जब Provocation की बात की तो संजय ने कहा, “provocation वाले मामले में वहां पर करिए जहां कम मुसलमान हैं”। संजय जिस तरह पुष्प की हर बात को मानने को तैयार थे, उसे देखकर अंदाजा लगाना मुश्किल नहीं कि अखबार के मैनेजमेंट में इनकी पकड़ कितनी मजबूत होगी। To see reactions of concerned person click here


If you like the story and if you wish more such stories, support our effort Make a donation.



Loading...

If you believe investigative journalism is essential to making democracy functional and accountable support us. »