बिजनेस यहां पढ़ें किन-किन चीजों पर नहीं लगेगी जीएसटी

यहां पढ़ें किन-किन चीजों पर नहीं लगेगी जीएसटी

आज़ादी के बाद देश में पहली बार ऐसा हो रहा है जब किसी कानून की घोषणा करने के लिए सरकार ने ऐसे इंतेजामात किए हों। जी हां बात हो रही है जीएसटी की। जिसका शुभारंभ एक भव्य समारोह के साथ किया जायेगा। आज रात 12 बजे से जीएसटी लगना शुरु हो जायेगा। पीएम मोदी, राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी समेत देश की कई बड़ी हस्तियां इस कार्यक्रम में रहेंगी।   


By Cobrapost.com - December 12, 2017

क्या आपको ये रिपोर्ट पसंद आई? हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं. हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें.

आज़ादी के बाद देश में पहली बार ऐसा हो रहा है जब किसी कानून की घोषणा करने के लिए सरकार ने ऐसे इंतेजामात किए हों। जी हां बात हो रही है जीएसटी की। जिसका शुभारंभ एक भव्य समारोह के साथ किया जायेगा। आज रात 12 बजे से जीएसटी लगना शुरु हो जायेगा। पीएम मोदी, राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी समेत देश की कई बड़ी हस्तियां इस कार्यक्रम में रहेंगी। 

लेकिन जीएसटी लागू होने से पहले लोगों के मन में अभी भी कई सवाल हैं, कि आखिर किस वस्तु पर कितना टैक्स लगेगा। सरकार के द्वारा जारी की गई लिस्ट में कुछ वस्तु ऐसी भी हैं, जिनपर 0% टैक्स लगेगा यानि कोई टैक्स नहीं लगेगा। पढ़ें उनकी पूरी लिस्ट…
– खुला खाद्य अनाज

– ताज़ी सब्जियां

– बिना मार्का आटा

– बिना मार्का मैदा

– बिना मार्का बेसन

– गुड़

– दूध

– अंडे

– दही

– लस्सी

– खुला पनीर

– बिना मार्का प्राकृतिक शहद

– खजूर का गुड़

– नमक

– काजल

– फूल भरी झाड़ू

– बच्चों की ड्रांइग और रंग की किताबें

– शिक्षा सेवाएं

– स्वास्थय सेवाएं

क्या है जीएसटी

जीएसटी का पूरा नाम गुड्स एंड सर्विस टैक्स (वस्तु एंव सेवा कर) है। यह केंद्र और राज्य सरकारों की तरफ से लिए जा रहे 15 से अधिक इनडायरेक्ट टैक्स के बदले में लगाया जा रहा है। जीएसटी पूरे भारत में एक साथ पहली जुलाई से लागू हो जाएगा।

जीएसटी में टैक्स स्लैब

जीएसटी लगने के बाद कई सेवाओं और वस्तुओं पर लगने वाले टैक्स खत्म हो जाएंगे. एक जुलाई के बाद देश में ‘वन नेशन, वन टैक्स’ का कॉन्सेप्ट अमल में आ जाएगा। GST के तहत 5%, 12%, 18% और 28% के टैक्स स्लैब बनाए गए हैं। इसके अलावा, रफ डायमंड (बगैर तराशे हुए डायमंड) के लिए 0.25 फीसदी और गोल्ड पर 3 फीसदी का स्पेशल रेट है। जबकि सिगरेट जैसी चीजों पर एडिशनल सेस भी लगेगा।

 

क्या आपको ये रिपोर्ट पसंद आई? हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं. हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें.

Tag : ,

Loading...

चर्चित खबरें

एक्सक्लूसिव