खेल खेल IPL 10: पुणे को 1 रन से हराकर मुंबई इंडियंस बनी चैंपियन, तीसरी बार जीतकर बनाया रिकॉर्ड

खेल IPL 10: पुणे को 1 रन से हराकर मुंबई इंडियंस बनी चैंपियन, तीसरी बार जीतकर बनाया रिकॉर्ड

मुंबई इंडियंस ने रविवार को आईपीएल फाइनल में राइजिंग पुणे सुपरजायंट को 1 रन से हराकर खिताब पर कब्जा जमाया। मुंबई ने रिकॉर्ड तीसरी बार यह खिताब हासिल किया। 


By Cobrapost.com - October 22, 2017


मुंबई इंडियंस ने रविवार को आईपीएल फाइनल में राइजिंग पुणे सुपरजायंट को 1 रन से हराकर खिताब पर कब्जा जमाया। मुंबई ने रिकॉर्ड तीसरी बार यह खिताब हासिल किया। मुंबई यह कारनामा करने वाली पहली टीम बन गई। मुंबई के 129/8 के जवाब में पुणे 6 विकेट पर 128 रन ही बना पाई।

इसके साथ ही आईपीएल का 10 सालों का सफर थम गया। अगले सीजन में अब नए सिरे बोली लगेगी और टीम संयोजन भी नए होंगे। राइजिंग पुणे टीम 130 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए 20 ओवर में 6 विकेट खोकर 128 रन ही बना सकी। मुंबई इंडियन्स की जीत में गेंदबाजों का अहम रोल रहा। खासतौर से अंतिम ओवर में मिचेल जॉनसन ने कमाल कर दिया। उन्होंने 4 ओवर में 26 रन देकर 3 विकेट झटके, जबकि जसप्रीत बुमराह ने 4 ओवरों में 26 रन खर्च करके दो विकेट चटकाए।  बैटिंग में अहम योगदान देने वाले क्रुणाल पांड्या (47 रन, 38 गेंद) को मैन ऑफ द मैच दिया गया।

इससे पहले मुंबई की टीम दो बार वर्ष  2013 और 2015 में आईपीएल चैंपियन रही थी जबकि 2010 में उसे चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स से हारकर रनर अप रहना पड़ा था। आईपीएल के अपने दोनों फाइनल में मुंबई ने चेन्‍नई सुपर किंग्‍स को शिकस्‍त दी थी।  2013 में टीम ने चेन्‍नई को 23 रन से और 2015 में 41 रन से हराकर चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया था।

पढ़ें – मैच की खास बातें

मैच में पहले बैटिंग करते हुए मुंबई इंडियंस की टीम ने राइजिंग पुणे सुपरजायंट को जीत के लिए 130 रनों का लक्ष्य दिया था। जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी पुणे सुपरजायंट की टीम 20 ओवर में 6 विकेट गवां कर 128 रन ही बना पाई और ये मैच 1 रन से हार गई। पुणे की ओर से कप्तान स्टीव स्मिथ ने सबसे ज्यादा 51 रन बनाए। वहीं मुंबई की ओर से मिशेल जॉनसन ने 3 और जसप्रीत बुमराह ने 2 विकेट लिए। मिशेल जॉनसन का आखिरी ओवर निर्णायक साबित हुआ जिन्होंने स्टीव स्मिथ और मनोज तिवारी को आउट करके हार के जबड़े से जीत छीनकर मुंबई की झोली में डाल दी। मुंबई के लिए मुश्किल हालात में 38 बॉल पर 47 रन बनाने वाले क्रुणाल पंड्या को ‘ मैन ऑफ द मैच’ चुना गया।

पुणे की शुरुआत अच्छी नहीं रही और 17 रन पर उसका पहला विकेट गिर गया। इसके बाद दूसरे विकेट के लिए रहाणे और स्मिथ ने 71 रन जोड़कर टीम को मजबूती दी। एक वक्त पर टीम का स्कोर 1 विकेट पर 71 रन था और लग रहा था पुणे आसानी से मैच जीत लेगी। लेकिन रहाणे के आउट होते ही टीम विकेट गिरने का सिलसिला शुरू हो गया।

इसे भी पढ़िए :  द ग्रेट खली को रिंग में घुसकर मारने का विदेशी

Tag : ,

Loading...

चर्चित खबरें

एक्सक्लूसिव