Thursday 17th of January 2019
उम्मीदों से भी कम डॉलरों में निलाम हुआ एडोल्फ हिटलर की आत्मकथा की 'दुर्लभ प्रति'
ज़रा हटके

उम्मीदों से भी कम डॉलरों में निलाम हुआ एडोल्फ हिटलर की आत्मकथा की 'दुर्लभ प्रति'

ndtv |
September 19, 2017

जर्मन तानाशाह एडोल्फ हिटलर की आत्मकथा 'मीन कैम्फ' की निजी तौर पर दस्तखत की हुई 'दुर्लभ प्रति' अमेरिका में 8.32 लाख रुपये में नीलाम हुई है।



जर्मन तानाशाह एडोल्फ हिटलर की आत्मकथा 'मीन कैम्फ' की निजी तौर पर दस्तखत की हुई 'दुर्लभ प्रति' अमेरिका में 8.32 लाख रुपये में नीलाम हुई है। किताब के पहले पन्ने पर हिटलर ने हस्ताक्षर के साथ लिखा है 'युद्ध में केवल महान व्यक्ति बचेगा! 18/अगस्त 1930 को एडॉल्फ हिटलर'​

अमेरिका में एलेक्सजेंडर ऑक्शन के मुताबिक, जिस दिन हिटलर ने इस किताब पर दस्तख्त किए थे। उस दिन वहao जर्मनी के कोलोन शरह में राष्ट्रीय चुनाव के लिए जर्मन वर्कस पार्टी (एनएसडीएपी) और पार्टी के उम्मीदवारों के प्रचार में भाषण दे रहे थे। यह भाषण 14 सितंबर 1930 को होने वाले राष्ट्रीय चुनाव के सिलसिले में था।

​'मीन कैम्फ' की इस प्रति पर नीले कपड़े की जिल्द है जिस पर हिटलर की पार्टी का निशान भी मौजूद है। नीलामी संस्था को पहले उम्मीद थी कि किताब का दाम 20 हजार डॉलर तक लगाया जा सकता है लेकिन आखिर में नीलामी 13 हजार डॉलर यानी 8 लाख 32 हजार रुपये पर खत्म हुई। 'मीन कैम्फ' का अर्थ है--मेरा संघर्ष। यह हिटलर की आत्मकथा है। इस किताब के जरिए हिटलर के दिमाग में झांकने का मौका मिलता है। उसकी सियासी सोच और जर्मनी को लेकर उसकी योजनाओं का पता चलता है।


If you like the story and if you wish more such stories, support our effort Make a donation.




Loading...

If you believe investigative journalism is essential to making democracy functional and accountable support us. »