मनी लॉन्ड्रिंग केस: माल्या के खिलाफ ED ने सीबीआई से मांगी FIR की कॉपी

0
फाइल फोटो।

नई दिल्ली। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, प्रवर्तन निदेशालय ने सीबीआई से विजय माल्या के खिलाफ धोखाधड़ी के नए मामले की एफआइआर कॉपी उपलब्ध कराने को कहा है, ताकि उनके खिलाफ चल रहे बैंक कर्ज मामले में आगे की कार्रवाई की जा सके।

इससे पहले सीबीआई ने प्रिवेंसन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट मामले में माल्या के खिलाफ नया एफआईआर दर्ज किया। 13 अगस्त को सीबीआई ने यह कार्रवाई लोन डिफॉल्ट के मामले में की थी। गौर हो कि भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) के नेतृत्व में 17 बैंकों के एक संघ ने इस मामले में सीबीआई से शिकायत की थी।

इसे भी पढ़िए :  ब्लैकमनी के खिलाफ सरकार की बड़ी कार्रवाई, ED ने की 300 कंपनियों पर तबाड़तोड़ छापेमारी

शिकायत में सीबीआई से कहा गया कि माल्या ने किंगफिशर एयरलाइंस के लिए लिए गए कर्ज को जानबूझकर नहीं लौटाया। इससे 2010 और 2015 के बीच बैंकों को 6000 करोड़ रुपए से ज्यादा नुकसान हुआ।

इसे भी पढ़िए :  ED के छापे में खुलासा, BSP के खाते में 104 करोड़ जमा, मायावती के भाई का अकाउंट भी जब्त

ईडी के मुताबिक, एफआईआर की कॉपी मिलने के बाद माल्या के खिलाफ नए सिरे से कार्रवाई की जा सकेगी और बैंकों के कर्ज को लौटाने में मदद मिलेगी। एफआईआर की कॉपी मिलने के बाद ईडी नए सिरे से माल्या की प्रॉपर्टी की नीलामी भी कर सकती है, जिससे जरूरी रकम जुटाई जा सके।

इसे भी पढ़िए :  देश में 22 हाइवे को रनवे में बदलने की तैयारी: नितिन गडकरी

इसके पहले भी ईडी माल्या की प्रॉपर्टी को नीलाम किए जाने की कोशिश की थी, लेकिन उचित खरीदार न मिलने की वजह से फंड जुटाने की ये कोशिश नाकाम रही थी।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY