Idea-Vodafone के विलय से 25,000 लोगों की नौकरी खतरे में!

0
टेलिकॉम
फाइल फोटो
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

टेलिकॉम कंपनीयां आइडिया और वोडाफोन मर्जर का एलान कर चुकी हैं लेकिन इस विलय से अगले 18 महीने की प्रक्रिया से टेलिकॉम इंडस्ट्री से 10,000 से 25,000 लोगों की नौकरी पर तलवार लटक रही है।

 

टेलिकॉम जगत में रिलायंस जियो के सस्ती कॉल दरों और फ्री इंटरनेट ने पूरी इंडस्ट्री में भूचाल मचा दिया है। अभी तक टेलिकॉम के दिग्गज एयरटेल की वार्षिक कमाई का सबसे बड़ा हिस्सा मोबाइल इंटरनेट सर्विस से आता था। लेकिन रिलायंस जियो की 4जी सर्विस के साथ मार्केट में री-एंट्री से एयरटेल और अन्य मोबाइल कंपनियों के सामने कड़ी चुनौती है।

इसे भी पढ़िए :  रतन टाटा-साइरस मिस्त्री ने एक-दूसरे के खिलाफ पहुंचे अदालत

 

इस मुकाबले में आइडिया और वोडाफोन के मर्जर से देशभर में फैले दोनों नेटवर्क से बड़ी संख्या में लोगों की सेवाएं समाप्त हो सकती हैं। दोनों कंपनियों के मर्जर से जुड़े लोगों का मानना है कि देश में तीन लाख से ज्यादा लोग टेलिकॉम इंडस्ट्री में नौकरी करते हैं। आपको बता दें कि टेलिकॉम सेक्टर की दिग्गज कंपनी एयरटेल में कर्मचारियों की संख्या 19,000 है जबकि आइडिया में 17,000 और वोडाफोन में 13,000 कर्मचारी हैं। वहीं इंडस्ट्री की बाकी कंपनियों में एयरसेल में 8,000, आरकॉम में 7,500 और टाटा टेली में 5500 लोग नौकरी करते हैं।

इसे भी पढ़िए :  ‘नोटबंदी से सरकार को 2 लाख करोड़ का होगा फायदा’

 

अगली स्लाइड में पढ़ें बाकी की खबर

Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse