एकेडमिक क्षेत्र में लौटे राजन, पढ़ाएंगे अंतरराष्ट्रीय कारपोरेट फाइनेंस

0
फाइल फोटो।

नई दिल्ली। रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन अपना पसंदीदा कार्य पठन-पाठन के क्षेत्र में लौट गये हैं। उन्होंने यूनिवर्सिटी आफ शिकागो बूथ स्कूल आफ बिजनेस में वित्त के प्रोफेसर (डिस्टिंगविस्ट सर्विस प्रोफेसर) के रूप में कार्य शुरू किया है। वह वहां अंतरराष्ट्रीय कारपोरेट फाइनेंस पढ़ाएंगे।

इसे भी पढ़िए :  RBI ने ई-वॉलेट पेटीएम को पेमेंट बैंक बनाने की दी मंजूरी, अगले महीने से शुरू हो सकती है सेवा

राजन के 2016-17 के ‘पाठ्यक्रम कार्यक्रम’ का ब्योरा देते हुए शिकागो बूथ स्कूल ने कहा कि पाठ्यक्रम के तहत वह अधिक समन्वित वैश्विक अर्थव्यवस्था में ‘कारपोरेट फाइनेंस और इनवेस्टमेंट’ की चुनौतियों को तलाशेंगे।

इसे भी पढ़िए :  इनकम टैक्स विभाग ने पिछले दो सालों में 56 हजार करोड़ रूपए का कालाधन जब्त किया

राजन ने सितंबर 2013 में रिजर्व बैंक के गवर्नर का पदभार संभाला। अपने तीन साल के कार्यकाल के दौरान विभिन्न मुद्दों पर काफी मुखर रहे, जिसके कारण कई बार विवादों में फंसे। उन्होंने पूर्व में कहा था कि रिजर्व बैंक छोड़ने के बाद वह पठन-पाठन के क्षेत्र में लौट जाएंगे।

इसे भी पढ़िए :  एयरटेल का धमाका ऑफर, 4G यूजर्स के लिए 90 दिन डेटा फ्री

वह रिजर्व बैंक के गवर्नर पद पर रहते शिकागो यूनिवर्सिटी से अवकाश पर थे। वह इस विश्वविद्यालय से 1991 से जुड़े हैं।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY