43 साल के हुए सूफी गायक कैलाश खेर, जन्मदिन पर लोगों को देंगे ये तोहफा

0

भारतीय लोकगीत और सूफी संगीत की झलक अपने संगीत में पिरोने वाले कैलाश का आज गुरूवार को 43 वें जन्मदिन है । भगवान सवके भक्त संगीतकार कैलाश ने लगभग 700 गानों में अपनी आवाज दी है , और आज यानी अपने जन्मदिन पर एक नया गाना लॉन्च करने वाले है । कैलाश बॉलीवुड के एक रॉक पॉप और प्लेबैक सिंगर हैं.

छोटा कद, लंबे बाल और मदहोश कर देने वाली आवाज़ के दम पर दर्शकों के दिलों में अपनी अलग जगह बनायी है। कैलाश खेर का जन्म 7 जुलाई 1973 को मेरठ में कश्मीरी पंडित संगीतकार के घर में हुआ। इनकी मां का नाम चंद्रकांता है। और पिता का नाम मेहर सिंह है. कैलाश खेर के पिता लोगों के घरों में जाकर पारंपरिक लोक गीत गाया करते थे। इन्होंने बचपन से ही संगीत की तालीम लेनी शुरू कर दी थी। कैलाश अपने स्कूली दिनों में पिता के गीतों से काफी प्रभावित थे। वह उनके गानों को गुनगुनाया करते थे। वह पूरे दिन अपने पिता के गानों को सुना करते थे। कैलाश खेर ने शुरुआती शिक्षा अपने पैतृक शहर से ली। इन्होंने 2000 में दिल्ली विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त की।

इसे भी पढ़िए :  भाजपा का अनुराग कश्यप पर पलटवार, कहा: लोग खबरों में आने के लिए मोदी का नाम लेते हैं

आपको बता दे कि कैलाश खेर ने 12 साल की उम्र में संगीत के प्रशिक्षण के लिए गुरू की तलाश में घर छोड़ दिया था। इस पर कैलाश का कहना था कि उस समय मैं अपने संगीत के जुनून को आगे बढ़ाना चाहता था और यह अकेले रहकर ही मुमकिन हो सकता था। इसके बाद वो मुंबई पहुंचे ।

इसे भी पढ़िए :  भारतीय रेल पर लग सकता है ब्रेक! देशभर में रेल ड्राइवर आज से 36 घंटे के अनशन पर

फिल्म ‘अंदाज’ के ‘रब्बा इश्क ना होवे…’ गाने से कैलाश खेर ने बॉलीवुड में प्लेबैक सिंगर के रूप में डेब्यू किया। यह गाना सुपरहिट साबित हुआ 2004 में कैलाश खेर ने मुंबई में ‘कैलाशा’ नाम का बैंड तैयार किया। इस बैंड में संगीतकार परेश कामथ और नरेश कामथ हैं। यह बैंड 2006 में बाजार में आने के बाद फैंस के बीच काफी लोकप्रिय हुआ। 2014 तक कैलाश ने 20 भारतीय भाषाओं में 500 से ज्यादा गाने गाए। इसके अलावा इन्होंने केंद्र सरकार के ‘स्वच्छ भारत अभियान’ के एंथम को भी तैयार किया था।

इसे भी पढ़िए :  नोटबंदी पर नाना पाटेकर ने भी जताई सहमति, फैसले को बताया मीठी चाय

कैलाश खेर ने टीवी सीरियल ‘दीया और बाती हम’, ‘तेरे लिए’ और ‘उड़ान’ के टाइटल ट्रैक को भी अपनी आवाज में तैयार किया। इसके अलावा कैलाश रिएलिटी शो ‘सा रे गा मा पा लिटिल चैम्स’, ‘मिशन उस्ताद’, ‘इंडियन आइडल 4’, ‘आईपीएल रॉक’ और ‘रॉकऑन’ में जज की भूमिका भी निभा चुके हैं। 2009 में कैलाश ने मुंबई की रहने वाली कश्मीरी पंडित शीतल नाम की लड़की के साथ अरेंज मैरिज की। इनका 6 साल का एक बेटा कबीर है।

कैलाश खेर को कोबरापोस्ट की पूरी टीम की तरफ से जन्मदिन की ढेरों शुभकामनाएं

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY