रूस: भारतीय-रूसी सेना ने शुरू किया संयुक्त सैन्य अभ्यास, आतंक का होगा खात्मा

0
फाइल फोटो।

नई दिल्ली। रूस के व्लादिवोस्तोक में शुक्रवार(23 सितंबर) को भारत और रूस ने अपना आठवां संयुक्त सैन्य अभ्यास शुरू किया है, जिसका लक्ष्य आतंकवाद-विरोधी अभियानों पर है। उसीरियस्क जिले में हो रहे आठवें सैन्य अभ्यास ‘इन्द्र-2016’ का मुख्य ध्यान संयुक्त राष्ट्र के जनादेश के तहत ‘‘अर्ध-पहाड़ी क्षेत्रों तथा जंगल वाले क्षेत्रों में आतंकवाद-विरोधी अभियान’’ पर रहेगा।

इसे भी पढ़िए :  भारत-अमेरिकी सेना के बीच पूरा हुआ सैन्य युद्धाभ्यास

भारतीय सेना ने एक बयान में कहा कि संयुक्त अभियानों में बेहतर कार्यशीलता हासिल करने के लक्ष्य से दोनों पक्षों के सैनिक ऐसे अभियानों के लिए स्वयं को विशेष रूप से तैयार करेंगे। इस लक्ष्य के लिये 11 दिनों का लंबा विस्तृत प्रशिक्षण कार्यक्रम तैयार किया गया है।

इसे भी पढ़िए :  मुंबई अटैक के मामले की सुनवाई में तेजी लाए पाकिस्तान: अमेरिका

ब्रिगेडियर सुकृत चादाह कुमाउं रेजिमेंट के 250 सैनिकों की भारतीय सैन्य टुकड़ी का नेतृत्व कर रहे हैं, जबकि रूसी सेना का प्रतिनिधित्व 59वीं मोटोराइज्ड इंफेंटरी ब्रिगेड के 250 सैनिक कर रहे हैं।

टुकड़ियों को संबोधित करते हुए ब्रिगेडियर चादाह ने आतंकवाद को हराने के लिए दोनों देशों के बीच संयुक्त अभ्यास की जरूरतों पर जोर दिया।

इसे भी पढ़िए :  पाक में फिर ऑनर किलिंग, दो बहनों की झूठी शान की खातिर हत्या

भारत और रूस के बीच 2003 से शुरू महत्वपूर्ण द्विपक्षीय रक्षा सहयोग में ‘इन्द्र’ संयुक्त सैन्य अ5यास भी शामिल है। भारतीय सैन्य टुकड़ी अभ्यास के बाद अक्टूबर में वापस लौटने वाली है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY