इराक युद्ध गैरकानूनी था: जॉन प्रेस्कॉट

0

ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री टोनी ब्लेयर के एक सहयोगी ने कहा कि इराक युद्ध गैर कानूनी था। सन् 2003 में जब ब्रिटेन ने सद्दाम हुसैन के खिलाफ इराक युद्ध लड़ने का फैसला लिया था तब सरकार में नंबर दो की हैसियत रखने वाले जॉन प्रेस्कॉट ने संडे मिरर के एक लेख लिखकर कहा है कि सद्दाम के खिलाफ यह युद्ध गैरकानूनी था। प्रेस्कॉट फिलहाल हाउस ऑफ लॉर्डस के सदस्य हैं।
हम आपको बता दें कि इससे पहले भी इराक युद्ध पर जांच कर रही एक कमेटी ने अपने रिपोर्ट में इराक युद्ध में शामिल होने के तत्कालीन प्रधानमंत्री टोनी ब्लेयर के फैसले को दोषपूर्ण ठहराते हुए कहा है कि साल 2003 में इराक के तानाशाह सद्दाम हुसैन को अपदस्थ करने के लिए अमेरिका के नेतृत्व में हुए हमले में ब्रिटेन का शामिल होना अंतिम उपाय नहीं था और यह दोषपूर्ण खुफिया जानकारी पर आधारित था।
इस रिपोर्ट में आगे लिखा गया है कि ब्रिटेन ने इराक पर हमले में शामिल होने से पहले सभी शांतिपूर्ण विकल्पों को नहीं तलाशा गया था। जांच रिपोर्ट में कहा गया कि ब्लेयर ने तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति जार्ज डब्ल्यू बुश को हमले से आठ माह पहले एक संदेश भेजा था। जिसमें ब्लेयर ने लिखा था, जो भी हो, मैं आपके साथ रहूंगा।
इसी सप्ताह ब्लेयर ने इस युद्ध में हुई गलतियों के लिए दुख और अफसोस जाहिर करते हुए माफी मांगी थी। लेकिन उन्होंने यह भी कहा था कि युद्ध सही था और दुनिया इराकी तानाशाह सद्दाम को हटाए बिना सुरक्षित नहीं रहती।

इसे भी पढ़िए :  'चार महीनों में 65 हजार करोड़ के कालेधन की जानकारी मिली'

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY