मंत्रिमंडल विस्तार को मायावती ने बताया ‘चुनावी नाटकबाजी’

0

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी अध्यक्ष मायावती ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। बहनजी ने केन्द्रीय मंत्रिपरिषद विस्तार को उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में होने वाले विधानसभा चुनाव से पूर्व एक और ‘चुनावी नाटकबाज़ी’ करार देते हुये कहा कि इस मामले में भाजपा भी कांग्रेस के नक्शेकदम पर चल रही है।

मायावती ने एक बयान जारी कहा कि ये विस्तार की पूर्व संध्या पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का अखबारों के माध्यम से किया गया यह दावा लोगों को बरगलाने वाला ही है कि मंत्रिपरिषद का विस्तार बजट के मुख्य पहलुओं के आधार पर किया जाएगा। दरअसल, मंत्रिपरिषद में किया गया विस्तार देश के विभिन्न राज्यों में होने वाले आगामी विधानसभा चुनावों खासकर उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में होने वाले इन चुनाव को ध्यान में रखकर ही किया गया है।

इसे भी पढ़िए :  चुनावी सर्वे पर भड़कीं मायावती, कहा 'बनकर रहेगी बसपा की सरकार, मीडिया पूंजीपतियों का औजार'

उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने अपने दो वर्षों से अधिक के कार्यकाल में गरीबों, किसानों, मजदूरों, दलितों, पिछड़ों, मुसलमानों एवं अन्य धार्मिक अल्पसंख्यकों की उपेक्षा करके सिर्फ बड़े पूँजीपतियों के हित में काम किया है। ऐसे में कमजोर तबकों के प्रतिनिधियों को मंत्रिपरिषद में छोटी-मोटी जगह देने से देश में व्यापक आबादी रखने वाले इन वर्गों के लोगों की सामाजिक व आर्थिक स्थिति सुधरने वाली नहीं है।

इसे भी पढ़िए :  केंद्र सरकार राष्ट्रपति शासन के माध्यम से दिल्ली को परोक्ष रूप से चलाना चाहती है: सिसोदिया

गौरतलब है कि केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार मंत्रिपरिषद के विस्तार के तहत उत्तर प्रदेश से अनुप्रिया पटेल, कृष्णा राज और महेन्द्रनाथ पाण्डेय को काबीना में शामिल किया है। इस कदम को उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है।

इसे भी पढ़िए :  प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी ने नहीं ली है एक भी छुट्टी

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY