मुलायम पर मायावती का तंज, ‘पुत्र मोह छोड़कर राजनीति से लें सन्यास’

0
मायावती
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

बहुजन समाज पार्टी यानी बसपा अध्यक्ष मायावती ने उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी यानी सपा में जारी तनातनी को ‘ड्रामेबाजी’ बताते हुए आज कहा कि अगर इसमें सचाई है तो जनता के व्यापक हित में सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव को पुत्रमोह त्याग कर सक्रिय राजनीति से तुरन्त सन्यास ले लेना चाहिये।

भाषा की खबर के मुताबिक मायावती ने बसपा राज्य मुख्यालय पर वरिष्ठ पदाधिकारियों की बैठक में कहा ‘सपा के परिवार के दर्जनों लोग किसी-ना-किसी रूप में राजनीति में शामिल हंै और उन सबके अपने-अपने स्वार्थ हैं। ऐसे में सपा परिवार की आपसी घमासान, कलह तथा गम्भीर विवादों की समय-समय पर आने वाली खबरें चुनाव के समय जनता का ध्यान बाँटने के लिये ड्रामेबाजी के रूप में होती हैं।’’ उन्होंने कहा ‘‘फिर भी अगर इसमें सचाई है तो प्रदेश की जनता के व्यापक हित में सपा परिवार के मुखिया मुलायम सिंह यादव को पुत्रमोह त्याग कर सक्रिय राजनीति से तुरन्त सन्यास ले लेना चाहिये।’’ मालूम हो कि विगत कुछ महीनों से गम्भीर मतभेदों से दो-चार मुलायम परिवार का द्वंद्व गत 13 सितम्बर को उस समय बढ़ गया था, जब मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रदेश के मुख्य सचिव दीपक सिंघल को हटा दिया था। सिंघल अखिलेश के चाचा कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव के करीबी समझे जाते हैं।

इसे भी पढ़िए :  यूपी पुलिस का शर्मनाक चेहरा, बैंक की लाईन में लगे लोगों पर लाठीचार्ज, देखें वीडियो

अगले स्लाइड में पढ़िए कैसे मुलायम सिंह ने बेटे अखिलेश को ईंट का जवाब पत्थर से दिया

Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse