गिरफ्तार संदिग्ध आतंकवादियों को कानूनी मदद देंगे ओवैसी

0

अपने भड़काऊ भाषणों को लेकर हमेशा विवादों में रहने वाले मजलिस-ए- इत्तेहादुल मुस्लमिन (एमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने एक बार फिर चौंकाने वाली बात कही है। ओवैसी ने शुक्रवार को कहा कि उनकी पार्टी उन युवकों को कानूनी मदद मुहैया कराएगी जिन्हें राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने कुख्यात आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएसआईएस) के कथित मॉड्यूल में शामिल होने के आरोप में गिरफ्तार किया है।
29 जून को हैदराबाद में पकड़े गए एनआईए के पांच संदिग्धों को कोर्ट ने 12 दिन के लिए NIA की रिमांड में भेज दिया है। जिसके बाद सियासत तेज़ हो गई है और एमआईएम प्रमुख असदउद्दीन औवैसी ने गिरफ्तार किए गए आरोपियों की कानूनी मदद करने की बात कही है। ओवैसी ने कहा, ‘जिन लड़कों को संदिग्ध बताकर एनआईए ने गिरफ्तार किया है उनके परिवार वालों ने गिरफ्तार लड़कों के बेकसूर होने का दावा किया है।’
इतना ही नहीं ओवैसी ने एनआईए पर भी गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि ‘एनआईए की रिमांड रिपोर्ट में कहीं नहीं लिखा कि गिरफ्तार किये गए लड़के मंदिर में गोमांस फेंकने की साजिश रच रहे थे.’इसके साथ ही ऐसी घटनाओं के बाद देश की सुरक्षा पर गृहमंत्री और आला अफसरों के साथ पीएम मोदी भी अहम बैठक करने जा रहे हैं। सरकार ने कहा कि आतंकी खतरे को लेकर आई खुफिया जानकारी को गंभीरता से लेने की जरूरत है।

इसे भी पढ़िए :  बीजेपी की बढ़ी टेंशन ! हार्दिक पटेल की जमानत का रास्ता साफ

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY