सरकारी सर्वे में कैसा रहा मोदी के मंत्रियों का परफॉर्मेंश?

0

नई दिल्ली। मोदी सरकार के दो साल पूरे होने पर एक सरकारी पोर्टल ने सर्वे किया है। इस सर्वे में फॉरन, रेलवे और रोड एण्ड ट्रांसपोर्ट मिनिस्ट्री को फाइव स्टार रेटिंग दी गई है। हालांकि कई मिनिस्ट्री की रेटिंग अच्छी नहीं है। स्मृति ईरानी की एचआरडी मिनिस्ट्री में रेटिंग में पीछे है। माईगोव पोर्टल का एक महीने चला यह सर्वे गुरुवार को खत्म हुआ। सर्वे में मोदी सरकार की प्रोएक्टिव फॉरेन पॉलिसी और रेलवे के मॉडर्नाइजेशन को सबसे बेहतर माना गया है। नितिन गडकरी की रोड एंड ट्रांसपोर्ट मिनिस्ट्री के कामकाज को भी बहुत अच्छा बताया गया है। इन मंत्रालयों को करीब 60 फीसदी लोगों ने फाइव स्टार रेटिंग दी। महीनेभर चले इस सर्वे में करीब 2 लाख 7 हजार लोगों ने सरकार के कामकाज और इनिशिएटिव्स पर अपनी राय रेटिंग के बेस पर दी है।
एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस सर्वे की फाइनल रिपोर्ट पीएमओ को जल्द ही सौंपी जाने वाली है। ये रिपोर्ट इसलिए खास है, क्योंकि कैबिनेट में फेरबदल की अटकलें हैं। एजुकेशन रिफॉर्म्स की कोशिश कर रही एचआरडी मिनिस्ट्री को सिर्फ 35% लोगों ने फाइव स्टार रेटिंग दी है। ब्लैक मनी वापस लाने की कोशिशों को लोगों ने काफी नहीं माना है। सर्वे में शामिल 31% लोगों ने ही इस मामले में सरकार को फाइव स्टार रेटिंग दी है। 14% लोगों ने इसे सबसे कम रेटिंग यानी वन स्टार दिया।
जबकि स्वच्छ भारत, डिजिटल इंडिया, सेल्फ इम्पलॉइमेंट और स्टार्टअप इंडिया जैसे मोदी सरकार के अहम कैम्पेन को क्रमश: 33%, 36% और 38% लोगों ने फाइव स्टार रेटिंग दी। वहीं 39% लोगों ने एग्रीकल्चर और किसानों की बेहतरी के लिए की गई कोशिशों को फाइव स्टार रेटिंग दी। हालांकि स्किल इंडिया प्रोग्राम को 40 फीसदी लोगों ने 5 स्टार रेटिंग लायक माना। सर्वे में लोगों से 15 इनिशिएटिव्स पर रेटिंग देने को कहा गया था। इसके लिए 1 से 5 रेटिंग रखी गई थी। टोल फ्री नंबर और मिस्ड कॉल सर्विस के जरिए ये सर्वे किया गया। सर्वे इसलिए अहम है, क्योंकि मोदी जल्द ही कैबिनेट में बदलाव करने वाले हैं। ऐसे में बेहतर रेटिंग वाले मंत्रालय के मंत्रियों को फायदा मिलने के आसार है।

इसे भी पढ़िए :  2000 रुपये के नोट में खोट - देखिए COBRAPOST की खास कवरेज, इस रिपोर्ट को देखकर आप भी 2000 रुपये का नोट लेने से करेंगे इनकार !