आरएसएस और मुस्लिम मंच मुसलमानों को आतंकी बनने से रोकेंगे

0

नई दिल्ली। ‘IS जैसे खतरे की देश को चुनौती’ से निपटने के लिए आरएसएस समर्थिोत मुस्लिम राष्ट्रीकय मंच ने एक एंटी-टेररिस्ट यूथ फ्रंट बनाया है। ताकि मुस्लिम युवकों के चरमपंथियों द्वारा बढ़ते ब्रेनवॉश को रोका जा सके।

यह फ्रंट ऐसे क्षेत्रों में काम करेगा जहां कुछ मुस्लिम युवकों के IS की तरफ झुकने की खबरें आई हैं। फ्रंट का फोकस मुस्लिम युवकों पर ही रहेगी। मगर चूंकि इसे ज्याकदातर सदस्यक नमो सेना व अन्यह ‘हिन्दूो संगठनों’ से होंगे, इसलिए समूह में हिन्दुीओं की ही अधिकता रहेगी।

इसे भी पढ़िए :  राज्यसभा चुनावों में झारखंड के मुख्यमंत्री खरीद फरोख्त में शामिल: बाबू लाल मरांडी

संघ की राष्री मुय कार्यकारिणी के सदस्य, व वरिष्ठ प्रचारक इंद्रेश कुमार इस मंच के मुख्यक संरक्षक होंगे। यह फ्रंट कुमार जैसे संघ नेताओं की पहल से ही शुरू हुआ है। मंच के राष्ट्री्य संयोजक मोहम्म द अफजल ने द इंडियन एक्संप्रेस को बताया, ”IS भारत के लिए नई चुनौती है। कुछ मुस्लिम, खासकर दक्षिणी राज्योंे के, IS की तरफ आकर्षित हो रहे हैं। हम इस पर खास नजर रख रहे हैं।”

इसे भी पढ़िए :  अमर्यादित बयान पर बुरे फंसे दयाशकंर, अब महिला आयोग ने भी मांगा जवाब

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY