नवाज शरीफ को आईना दिखाने न्यूयॉर्क पहुंची सुषमा स्वराज, यूएन में पाकिस्तान की खोलेंगी पोल

0
सुषमा

अंतर्राष्ट्रीय मंच पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बखिया उधेड़ने का वक्त आ गया है। जब यूएन में सुषमा पाकिस्तान पर गरजेंगी तो शरीफ सिर नहीं उठा पाएंगे। अपने साथ पाकिस्तान के दोगले रवैयों की बानगी और दोमुंहेपन के सुबूत लेकर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज न्यूयॉर्ग पहुंच चुकी हैं। कल यानी 26 सिंतबर को सुषमा भरे मंच पर शरीफ की शराफत की तो पोल खोलेंगी ही, पाकिस्तान में पल रहे आतंकवाद के मुद्दे को भी प्राथमिकता से उठाएंगी। कल होने वाले सुषमा के भाषण पर ना सिर्फ भारतीयों की बल्कि खुद पाकिस्तान की भी नज़र रहेगी। क्यों पड़ोसी मुल्क को इस बात का बखूबी एहसास है कि कल भरे मंच पर उसकी छीछा लैदर होने वाली है। इसके अलावा बाकी देश भी देखना चाहते हैं कि पाकिस्तान की घटिया नीतियों पर भारत कैसे मुंह तोड़ जवाब देने वाला है।

इसे भी पढ़िए :  पाकिस्तान में प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ की मौजूदगी में गूंजा गायत्री मंत्र, चारों तरफ बजी तालियां

सूत्रों के मुताबिक संयुक्त राष्ट्र महासभा के दौरान वह जम्मू-कश्मीर के उरी सेक्टर में हुए आतंकी हमला, कश्मीर में जारी हिंसा के पीछे पाकिस्तान का हाथ होने, आतंकी सरगना हाफिज सईद, सलाहुद्दीन को पाकिस्तान से मिलने वाला सरकारी समर्थन का भी मुद्दा उठाएंगी। इसके साथ ही वह ये सबूत पेश करेंगी कि पठानकोट और उरी में हुए आतंकी हमलों में पाकिस्तान शामिल था। साथ ही साथ वह बलूचिस्तान में मानवाधिकार उल्लंघन का मामला भी उठाएंगीं।

इसे भी पढ़िए :  राहुल ने फटा कुर्ता दिखाकर पीएम पर कसा था तंज, बीजेपी कार्यकर्ता ने नया कुर्ता भेजकर दिया जवाब

 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने एक ट्वीट में कहा, ‘संयुक्त राष्ट्र महासभा के 71वें सत्र में भारत के प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करते हुए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज न्यूयार्क पहुंचीं।’ शरीफ ने महासभा में अपने संबोधन के दौरान ज्यादा ध्यान कश्मीर पर ही केंद्रित रखा था। ऐसे में सुषमा से उम्मीद की जा रही है कि वह शरीफ के उस भाषण का कड़ा जवाब देंगी। शरीफ के भाषण पर भारत ने जवाब के अधिकार का इस्तेमाल किया और पाकिस्तान को ‘आतंकवाद की शरणस्थली’ तथा ऐसा ‘आतंकी देश’ करार दिया, जो आतंकवाद का इस्तेमाल सरकारी नीति के तौर पर करते हुए ‘युद्ध अपराधों’ को अंजाम देता है।

इसे भी पढ़िए :  पेशावर में ईसाई कॉलोनी पर आतंकी हमला, सेना से मुठभेड़ में 6 आतंकी ढेर

आपको बता दें कि यूएन में तीन दिन पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने बेशर्मी की हदों को लांघते हुए कश्मीर मुद्दे पर भारत को घेरने की कोशिश की थी। बुरहान वानी को युवा नेता बताकर देश के नौजवानों को गुमराह करने की नापाक हिमाकत की थी।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY