अमेरिका चुनाव: डॉनल्ड ट्रंप ने ‘भारतीयों’ को कहा नौकरी चुराने वाले

0
डॉनल्ड ट्रम्प
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डॉनल्ड ट्रम्प और हिलरी क्लिंटन के बीच जमकर आरोप-प्रत्यारोप का दौर चल रहा है। इन आरोपों में भारत और भारतीय कंपनियों को भी घसीटा जा रहा है। सोमवार को न्यू यॉर्क की हॉफ्स्ट्रा यूनिवर्सिटी में प्रेजिडेंशल डिबेट के दौरान जब पहली बार यह दोनों नेता आमने-सामने होंगे तो अप्रत्यक्ष तौर पर ही सही, भारत से जुड़े कुछ मुद्दे भी उठाए जाएंगे। मजाकिया अंदाज में कहा भी जा रहा है कि ‘पंजाब के सेनेटर’ का सामना ‘रूस की कठपुतली और पुतिन के दोस्त’ से होगा।

इसे भी पढ़िए :  ट्रंप अमेरिकी राष्ट्रपति बनने के लिए पूरी तरह अयोग्य हैं: हिलेरी

दोनों पक्ष अमेरिका के प्रति एक दूसरे की निष्ठा को सवालों के घेरे में खड़ा करते हुए एक दूसरे पर तीखे हमले कर रहे हैं। पुलिस और अश्वेतों में चल रहे टकराव के बीच अमेरिका में कई हिस्सों में नस्लीय तनाव की स्थिति बनी हुई है। हालांकि राष्ट्रपति चुनाव के जमीनी राजनीतिक मुद्दों से भारत का कोई लेना देना नहीं है लेकिन आउटसोर्सिंग के मसले की वजह से भारतीय कंपनियों को भी इसमें घसीटा जा रहा है। दोनों पक्ष एक दूसरे पर अमेरिका की नौकरियां दूसरे देशों में आउटसोर्स करने में मदद करने का आरोप लगा रहे हैं।

इसे भी पढ़िए :  मोसूल से ISIS को खदेड़ने के लिए, इराकी बलों ने धावा बोला

‘मेक अमेरिका ग्रेट अगेन’ के नारे के साथ ट्रम्प खेमे ने इस सप्ताह हिलरी क्लिंटन से जुड़े कुछ पुराने मुद्दे उठाए और कुछ ऐसी क्लिप्स दिखाईं जिनमें हिलरी खुद को मजाकिया अंदाज में ‘पंजाब का सेनेटर’ बता रही हैं। ट्रम्प के नए प्रचार प्रमुख एंड्र्यू ब्रीटबार्ट द्वारा संचालित बेवसाइट पर इससे जुड़ी एक घटना का जिक्र किया गया है। कई साल पहले एक जाने माने इंडो-अमेरिकन रजवंत सिंह द्वारा आयोजित फंडरेजर में क्लिंटन ने कहा था, ‘मैं पंजाब में भी सेनेट की सीट आराम से जीत सकती हूं।’

इसे भी पढ़िए :  इतिहास में दूसरी बार सउदी अरब में शाही परिवार के सदस्य को मिली 'सजा ए मौत'
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY