80 साल की मां ने 40 साल के शहीद बेटे की अर्थी को दिया कंधा

0
शहीद बेटे
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

कश्मीर के नौगांव में मंगलवार को पाकिस्तानी आतंकियों से मुकाबला करते हुए सेना की डोगरा यूनिट के हवलदार मदन लाल शर्मा शहीद हो गए थे। पूरे सैन्य सम्मान के साथ भारत मां के शहीद बेटे का गुरुवार को अंतिम संस्कार किया।
इसे भी पढ़िए-मोदी का ये फैसला पाक को बर्बाद कर देगा
तिरंगे में लिपटा हुआ शहीद का शरीर जब गांव पहुंचा तो वहां पर मौजूद हजारों की संख्या में लोगों की आंखें नम हो गई और पाकिस्तान के खिलाफ गुस्सा फूट पड़ा। हाथों में तिरंगा पकड़े लोगों के पाकिस्तान मुर्दाबाद और भारतीय सेना जिंदाबाद व शहीद मदन लाल अमर रहे के नारों से गूंज उठा। 80 वर्षीय मां धर्मों देवी ने निराश होकर अपने शहीद बेटे की अर्थी को कंधा दिया, शहीद की पत्नी भावना शर्मा पांच वर्षीय बेटी श्वेता और ढाई वर्ष का बेटा कन्नव भी शहीद पिता की अतिंम यात्रा में शामिल रहे।
80-1
शहीद की मां ने अपने बेटे की महानता को समझते हुए उसकी अर्थी को कंधा देकर देश के सामने संदेश दिया कि बेटे की कर्तव्य पारायणता उसके लिए सबसे अहम है। सेना की 2 डोगरा रेजीमेंट के जवानों ने हवाई फायर करने के बाद शस्त्र उलटे कर मातमी बिगुल धुन के साथ शहीद को सलामी दी।
तस्वीरों में देखिए- अगर भारत-पाक के बीच परमाणु युद्ध होगा तो कितना नुकसान होगा
अगले पेज पर पढ़िए- किसने दी शहीद को मुखाग्नी

इसे भी पढ़िए :  पोरबंदर : नेवी बेस के पास विस्फोट
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY