बुराहन की मौत पर कश्मीर में कर्फ्यू, कई जगह हिंसा

0

श्रीनगर। कश्मीर में शनिवार को कई स्थानों पर हिंसा की घटनाएं हुईं। हिजबुल मुजाहिद्दीन के कमांडर बुरहान वानी की मौत के विरोध में कुलगाम में भीड़ ने पुलिस चौकियों, सुरक्षा बलों और भाजपा कार्यालय पर हमला बोला। झड़पों के दौरान तीन पुलिसकर्मियों समेत कुल 11 लोग घायल हुए हैं। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि युवकों के समूहों ने अनंतनाग जिले के बांदीपोरा, काजीगुंड और लारनू में पुलिस चौकियों और पुलिस थानों पर पथराव किया।

इसे भी पढ़िए :  खुली पाकिस्तान की पोल, पूर्व ISI अधिकारी ने माना- ईरान से अगवा हुए थे जाधव

कुलगाम जिले के धमहाल हांजीपोरा तथा मीर बाजार और बारामूला जिले के सोपोर के वारपोरा में भी हिंसक प्रदर्शन हुए। एक अधिकारी ने बताया कि दक्षिण कश्मीर के वेसु क्षेत्र में अल्पसंख्ययक समुदाय की सुरक्षा में तैनात पुलिस बल पर भी हमला किया गया। उन्होंने बताया कि कुलगाम जिले के नीलो-बुगम क्षेत्र में भीड़ ने भाजपा कार्यालय पर भी हमला किया और इमारत को नुकसान पहुंचाया।

क्षिण कश्मीर के बारामुला जिले के शीरी, क्रीरी, डेलिना, पट्टन और पालहालन क्षेत्रों में भी पथराव की घटनाएं हुईं। अधिकारी ने बताया कि दक्षिण कश्मीर के अवंतिपुरा के शरीफाबाद और बारसू इलाकों में भी हिंसक प्रदर्शन हुए। उन्होंने बताया कि खबरें आने तक झड़पों में 11 लोगों को चोट पहुंची है, इनमें से तीन पुलिसकर्मी हैं। शहर के विभिन्न इलाकों से प्रदर्शन की छिटपुट घटनाओं की भी खबर है।

इसे भी पढ़िए :  कांग्रेस ने यूनिफॉर्म सिविल कोड के जबरदस्ती ‘थोपे जाने’ का विरोध किया

श्रीनगर समेत कश्मीर के कुछ हिस्सों में कर्फ्यू जैसी पाबंदियां लगा दी गई हैं। कल वानी की हत्या के बाद घाटी में तनाव और प्रदर्शनों की आशंका के मद्देनजर प्रशासन ने अमरनाथ यात्रा रोक दी थी। पूरी कश्मीर घाटी में मोबाइल इंटरनेट की सेवा बंद कर दी गई है जबकि दक्षिण कश्मीर में मोबाइल की टेलीफोनी सेवा पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। ऐहतियाती तौर पर हड़ताल का आह्वान करने वाले शीर्ष के अलगावावादी नेताओं को नजरबंद कर दिया गया है।

इसे भी पढ़िए :  जम्मू-कश्मीर: बारामूला में आंतकी घुसपैठ की कोशिश नाकाम, सेना ने ढेर किए 4 दहशतगर्द

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY