चुनाव आयोग ने रक्षा मंत्री पर्रिकर को लगाई फटकार, भविष्य में सीमा में रहकर भाषण देने की दी हिदायत

0
पर्रिकर
फाइल फोटो।
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

चुनाव आयोग ने आचार संहिता के उल्लंघन में दोषी ठहराते हुए रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर को सख्त हिदायत दी है कि भविष्य में वो अपनी सीमा में रहें। आपको बता दें कि गोवा विधानसभा चुनाव प्रचार कराते समय वोटरों से कहा था कि विरोधी पार्टी के लोग भी पैसे दें तो वे रख लें और वोट बीजेपी को ही दें। आयोग ने पर्रिकर को लिखे गये पत्र में यह हिदायत दी।

इसे भी पढ़िए :  हाफिज से मिलकर आया था बहादुर अली, कश्मीर के जंगलों से दे रहा था हर खबर

 

 

गौरतलब है कि आयोग ने श्री पर्रिकर को इस संबंध में नोटिस जारी किया था और श्री पर्रिकर ने अपने वकील जय अनन्त देहदराय के माध्यम से तीन फरवरी को इसका जवाब दिया था। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, आयोग ने यह पाया कि श्री पर्रिकर का बयान आदर्श आचार संहिता उल्लंघन है।

इसे भी पढ़िए :  वीकेंड स्पेशल - 'नमामि गंगे परियोजना' का रिएलिटी टेस्ट, पढ़िए क्या है पूरी हकीकत

 

 

आयोग ने कहा है कि ऊंचे संवैधानिक पदों पर कार्यरत सभी नेताओं से यह अपेक्षा की जाती है कि वे चुनावी प्रक्रिया की पवित्रता को बनाये रखें। ऐसे व्यक्तियों द्वारा जनता में दिये गये बयान से अगर यह संकेत मिलता है कि वे मतदाताओं द्वारा रिश्वत देने की बात कह रहे हैं तो इसे भ्रष्ट आचरण माना जाएगा। यह देखते हुए आयोग श्री पर्रिकर को हिदायत देता है कि वे भविष्य में बयान देते समय अपनी सीमा में रहें और सावधानी बरतें।

इसे भी पढ़िए :  जयललिता के निधन के बाद खात्मे की कगार पर AIADMK... ना रही पार्टी, ना बचा चुनाव चिह्न

अगली स्लाइड में पढ़ें बाकी कीखबर

Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse