जम्मू-कश्मीर सरकार को बर्खास्त कर राष्ट्रपति शासन लगाया जाए: स्वामी

0
फाइल फोटो।

नई दिल्ली। भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने शनिवार(17 सितंबर) को कहा कि जम्मू कश्मीर में महबूबा मुफ्ती नीत सरकार को बर्खास्त किया जाना चाहिए और राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाया जाना चाहिए। घाटी में जारी अशांति पर स्वामी ने आरोप लगाया कि पीडीपी-भाजपा गठबंधन का प्रयोग विफल हो गया है और प्रदर्शन को काबू में करने के लिए सैन्य ताकत जरूरी है।

स्वामी ने कहा कि शुरूआत में हमें, भाजपा सरकार को लगा कि चूंकि हम जम्मू और लद्दाख में जीते हैं और पीडीपी कश्मीर में जीती है, इसलिए हमें यह प्रयोग करना चाहिए। लेकिन मेरे समेत कई लोगों को लगता है कि यह प्रयोग विफल रहा, इसे (महबूबा मुफ्ती सरकार को) न केवल इस्तीफा देना चाहिए, इस सरकार को बर्खास्त किया जाना चाहिए।

इसे भी पढ़िए :  गोमूत्र के लाभ को तलाशेगी मोदी सरकार, कमेटी का हुआ गठन

इंडिया टुडे माइंड रॉक्स शिखर सम्मेलन के एक सत्र के दौरान परिचर्चा में सुब्रमण्यम स्वामी ने एआईएमआईएम नेता असादुद्दीन ओवैसी को राष्ट्र विरोधी बताया। स्वामी ने कहा कि अगर हम आधुनिक विज्ञान को देखेंगे तब भारतीय मुसलमानों के पूर्वज हिन्दू थे। अगर कोई मुस्लिम इसे स्वीकार नहीं करता है तब वह देशभक्त नहीं है, बल्कि वह राष्ट्रद्रोही होगा। ओवैसी राष्ट्र विरोधी हैं।

इसे भी पढ़िए :  कश्मीर में लगातार 9वें दिन भी कर्फ़्यू

सत्र के दौरान ओवैसी ने कहा कि भारतीय संविधान में ऐसी कोई बाध्यता नहीं है कि कोई भारत माता की जय बोले। ओवैसी ने कहा कि भारतीय राष्ट्रवाद की बजाए भारत में हिन्दू राष्ट्रवाद को थोपने का प्रयास किया जा रहा है। किसी को कोई विशेष नारा लगाने के लिए बाध्य नहीं किया जा सकता है।

इसे भी पढ़िए :  पीएम मोदी को जनता ने लाल किले से इन मुद्दों पर दी बोलने की सलाह...

ओवैसी ने कश्मीर और पाकिस्तान पर केंद्र की नीति को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर भी निशाना साधा।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY