जनमत संग्रह वाले ट्वीट पर केजरीवाल की हुई खूब फजीहत

0

नई दिल्ली। ब्रिटेन में जनमत संग्रह के बाद शुक्रवार को केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा था कि दिल्ली में भी जनमत संग्रह होना चाहिए। इस ट्वीट के सार्वजनिक होने के बाद देशभर में केजरीवाल की आलोचनाओं का दौर शुरू हो गया। हंगामा तब और बढ़ गया जब जब विरोधियों ने केजरीवाल से पूछ लिया कि कहीं उन्हे ब्रिटेन का बुखार तो नहीं चढ़ गया।

इसे भी पढ़िए :  गोवा में हुआ गोलमाल! पढ़िए- कैसे जीतकर भी हार गई कांग्रेस और हारकर भी जीत गई बीजेपी?

केजरीवाल के इस ट्वीट पर दोनों विरोधी पार्टियां काँग्रेस और बीजेपी केजरीवाल की कड़ी आलोचना कर रही हैं। उनका कहना है की केजरीवाल कानून अपने हाथ में लेना चाहते हैं। काँग्रेस ने बताया की केजरीवाल की मांग संविधान विरोधी है तथा वो ऐसा अपनी कमी को छुपाने के लिए कर रहे हैं।
केजरीवाल का ऐसा विरोध इस कारण भी हुआ की संविधान में ब्रिटेन की तरह जनमत संग्रह का कोई प्रावधान नहीं है।

इसे भी पढ़िए :  पीएम मोदी समेत देश के 22 नेताओं को मारने की साजिश नाकाम, 3 संदिग्ध गिरफ्तार

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY