सपा की पारिवारिक कलह पर बोलीं मायावती, कहा ड्रामेबाजी के पीछे मुलायम की सोची समझी साजिश

0
मायावती
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

बसपा सुप्रीमो मायावती को समाजवादी पार्टी को घेरने का नया मुद्दा मिल गया है। ये मुद्दा कोई और नहीं बल्कि समाजवादी पार्टी परिवार में चल रही आंतरिक कलह का है। जहां यादव परिवार के लोग ही एक दूसरे पर बरस रहे हैं। ऐसे में बसपा इस मुद्दे को भला कैसे गंवा सकती है। कहावत भी है कि घर की लड़ाई में बाहरी ही बाजी मार जाते हैं। ऐसे ही बाजी मारने की जुगत में बसपा भी लगी है। हाल ही में मुलायम ने अपने भाई शिवपाल यादव को उत्तर प्रदेश का अध्यक्ष बनाया था। मुलायम की इस फेर-बदल पर मायावती ने कहा कि मुलायम सिंह यादव ने अपने भाई शिवपाल यादव को उत्तर प्रदेश का अध्यक्ष इसलिए बना दिया, ताकि आगामी विधानसभा चुनाव में सपा की हार का ठीकरा बेटे अखिलेश यादव पर न फूटने पाए।

इसे भी पढ़िए :  पाकिस्तानी आतंकवाद और व्यापारिक रिश्ते पर चर्चा के भारत पहुंचे जॉन केरी

माया ने आरोप लगाया कि मुलायम ने ऐसा इसलिए भी किया, ताकि सपा और परिवार में वर्चस्व को लेकर जारी संघर्ष और गृहयुद्ध की ड्रामेबाजी में मुलायम के हावी पुत्रमोह से राज्य की जनता का ध्यान बंटाया जा सके। मायावती ने कहा कि पुत्र को ही टिकट बांटने का अधिकार सौंपकर चुनाव से पहले उसकी छवि बनाने तथा उसे सपा परिवार में नंबर वन बनाने का प्रयास है। इस प्रयास में मुलायम ने भाई शिवपाल यादव को बलि का बकरा बनाकर कुर्बान कर दिया।

इसे भी पढ़िए :  पश्चिम बंगाल के गंगा सागर में भगदड़, छह लोगों की मौत

मायावती ने मिलायम सिंह यादव पर और क्या-क्या आरोप लगाए, पढ़ने के लिए अगले स्लाइड में जाएं, next बटन पर क्लिक करें।

Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

इसे भी पढ़िए :  गरीबों की भूख मिटाने के लिए उन्नाव में खोला गया 'रोटी बैंक'

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY