भारत नेपाल सीमा पर लगे खंबे GPRS से जुड़ेंगे

0

हाल ही में काठमाण्डू में समाप्त हुई नेपाल-भारत कार्यकारी समूह की तीसरी बैठक में फैसला लिया गया कि भारत-नेपाल सीमा पर लगे आठ हजार से अधिक खंभों को एक वैश्विक दिशा-निर्देशन उपग्रह प्रणाली यानी (ग्लोबल नेविगेशन सेटेलाइट सिस्टम GPRS) से जोड़ा जाएगा। इससे अधिकारियों को 17 हजार किमी से ज्यादा लंबी सीमा का पहली बार प्रभावी ढंग से प्रबंधन करने में मदद मिलेगी। इस तीन दिवसीय बैठक में नेपाली प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व सर्वेक्षण विभाग के महानिदेशक कृष्ण राज बीसी ने किया तो वहीं भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व डॉ. स्वर्ण सुब्बा राव (भारत के महासर्वेक्षक) ने किया बैठक के बाद साझा बयान जारी कर बताया गया कि, "बीडब्ल्यूजी बैठक में एसओसी मुलाकातों और संयुक्त फील्ड सर्वेक्षण टीमों (एफएसटी) की रिपोर्टों की समीक्षा की गई। सीमा पर चल रहे कार्य पर हुई प्रगति की प्रशंसा की गई। अधिकारियों ने फैसला किया कि पिछले अधूरे काम को पूरा करने को उच्च प्राथमिकता दी जाएगी।

इसे भी पढ़िए :  भारत के तेवर देख बौखलाया पाकिस्तान, सीमा पर भेजी सेना, पढ़िए-क्या है प्लानिंग ?

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY