15 अगस्त को ही हो जाता उरी हमला, सेना ने कर दिया था नाकाम

0
उरी
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

पिछले रविवार जम्मू-कश्मीर के उरी में हुआ आतंकी हमले के बारे में एक नया खुलासा हुआ है। खबर है कि ये हमला पहले 15 अगस्त को होने वाला था। लेकिन पाकिस्तान से आए फिदायीन स्कवॉड को भारतीय सेना ने LoC पर ही मार गिराया था। इसके बाद आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने 18 सितंबर को दोबारा फिदायीन स्कवॉड भेजा, जिसने हमले को अंजाम दिया।

इसे भी पढ़िए :  पढ़िये किन-किन को नहीं मिलेगा 'प्रधानमंत्री आवास योजना' का लाभ, मोटरसाइकिल और कुंवारापन बन सकता है बाधा

‘इंडिया टुडे’ को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक सेना के आला सूत्रों ने इसकी पुष्टि की है। सूत्रों के मुताबिक पहले यह हमला 15 अगस्त को उस वक्त होना था जब पीएम मोदी लाल किले की प्राचीर से देश को संबोधित कर रहे थे। लेकिन भारतीय सेना ने उस वक्त फिदायीन स्कवॉड के सभी चार सदस्यों को मार गिराया था। ये कार्रवाई उरी के मयन इलाके में की गई थी।

इसे भी पढ़िए :  मोदी के रोड शो के लिए मस्जिद से हटवाए गए राहुल-अखिलेश के पोस्टर

आगे पढ़ें

Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY