गुजरात की गिर गाय के मूत्र में सोना, शोधकर्ता हैरान

0
गाय माता

यकीन करना ज़रा मुश्किल है लेकिन हकीकत ऐसी है कि आप भी जानकर हैरान रह जाएंगे। गुजरात की गीर गायों के मूत्र में सोना होने की पुष्टि हुई है। ऐसा चार साल के लंबे शोध के बाद साफ हो सका। जूनागढ़ की एग्रिकल्चर यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने अपनी रिसर्च के दौरान पाया कि गिर गाय के पेशाब में सोने के अंश हैं। गुजरात की इस यूनिवरसिटि में इस बात के प्रमाण सामने आए हैं की गिर नस्ल की गायों के पेशाब में आएनिक यानि घुलनशील सोना होता है। गुजरात में पायी जाने वाली इन गायों के मूत्र में 3 मिलीग्राम से लेकर 10 मिली ग्राम तक सोना पाया जाता है। ये शोध जूनागड़ के विश्वविद्यालय के एग्रिकल्चरल डिपार्टमेंट के प्रोफेसर डॉ बी.ए. गोलकिया ने अपनी टीम के साथ की।
अब ये टीम भारत में पाई जाने वाली अन्य देसी गायों पर शोध कर रही है। टीम का कहना है कि उन्होंने अपनी शोध में अन्य जानवर जैसे ऊंट, भैस, भेड़ को भी इस्तेमाल किया लेकिन इन जानवरों के मूत्र के नमूने जांच के दौरान फेल हो गए। इन जानवरों के मूत्र में ऐसा कुछ नहीं पाया गया।
शोध करने वाली टीम ने कहा कि गाय के मूत्र में 388 तरीके के औषधीय गुण पाए गए हैं, जिनमें बड़ी-बड़ी लाइलाज बीमारियों को ठीक करने की क्षमता है।

इसे भी पढ़िए :  नवरात्रों के मौके पर घर बैठे कर लो दिल्ली के पांच मंदिरों के दर्शन, पूरी होगी मनोकामना

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY