राज्यवर्धन सिंह राठौड़ को खेल मंत्री बनाया जाए: मिल्खा सिंह

0
फाइल फोटो।

नई दिल्ली। उड़न सिख मिल्खा सिंह ने सलाह दी कि भविष्य में ओलंपिक जैसे कई खेलों वाले वैश्विक आयोजनों में बेहतर नतीजों के लिए ‘‘सही मदद’’ के साथ राज्यवर्धन सिंह राठौड़ को केंद्रीय खेल मंत्री बनाया जाए।

उन्होंने कहा कि मेरी एक सलाह है, राज्यवर्धन सिंह राठौड़ को खेल मंत्री बनाया जाए और उचित धनराशि एवं संसाधन संबंधी मदद के साथ उन्हें प्रभारी बना दिया जाए। अलग अलग लोगों को विभिन्न खेलों के लिए प्रमुख बनाया जाए और भारत के लिए पदक लाने की खातिर उन्हें पूरा सहयोग दिया जाए।

इसे भी पढ़िए :  रियो ओलंपिक से घर लौट रहीं महिला हॉकी खिलड़ियों को ट्रेन में फर्श पर बैठकर करना पड़ा सफर

उन्होंने कहा कि भारत में प्रतिभाओं की कमी नहीं है, मुझे पूरा भरोसा है कि सही प्रयास के साथ हम ऐसा कर सकते हैं। मिल्खा ने रियो ओलंपिक में शानदार प्रदर्शन के लिए पी वी सिंधु, साक्षी मलिक और दीपा कर्माकर की सराहना की।

उन्होंने कहा कि मेरी आंखों में आंसू थे जब मैंने सिंधु और साक्षी मलिक को पदक हासिल करने के बाद कंधे से राष्ट्रीय ध्वज लपेटे देखा। मैं और मेरी पत्नी निर्मल जो खुद अंतरविश्वविद्यालय बैडमिंटन खिलाड़ी रह चुकी हैं, पी वी सिंधु, उनके माता पिता और कोच गोपीचंद को इस शानदार उपलब्धि के लिए बधाई देते हैं।

इसे भी पढ़िए :  नाडा की पैनल की रिपोर्ट आने के बाद ही कदम उठाएंगे : खेल मंत्री

मिल्खा ने कहा कि रियो ओलंपिक खेलों के खत्म होने के साथ ही हमें बेहतर हो रहे विश्व स्तरों को ध्यान में रखते हुए पदक जीतने के लक्ष्य के साथ अगले दो ओलंपिक खेलों के लिए काम करना शुरू कर देना चाहिए। आज हमारे पास बुनियादी ढांचा और संसाधन हैं। कोई कमी नहीं है। हमें अनुबंध के आधार पर शीर्ष स्तर के कोच तैनात करने चाहिए और उन्हें तथा हमारे खिलाड़ियों को स्वर्ण के लिए प्रतिस्पर्धा करने की खातिर सशक्त करना चाहिए।

इसे भी पढ़िए :  रियो ओलंपिक: सेमीफाइनल में पहुंची सानिया-बोपन्ना की जोड़ी, पदक की उम्मीद बढ़ी

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY