रियो ओलंपिक: भारत के सारे टेबल टेनिस प्लेयर पहले ही दौर में हारे, अभियान खत्म

0

दिल्ली
अचंत शरत कमल के नेतृत्व में भारत की टेबल टेनिस चौकड़ी का अभियान आज रियो ओलंपिक में पहले दिन ही खत्म हो गया। चारों खिलाड़ियों ने अपने पहले दौर के मैच गंवा दिए जिससे उनका सफर समाप्त हो गया।

मोउमा दास को केवल 21 मिनट में हीं 4-0 से हार झेलनी पड़ी। उन्हें अलावा बाकी तीनों खिलाड़ियों ने कम से कम एक गेम जीता। शरत और सौम्यजीत दोनों ने विरोधियों से एक एक गेम छीने लेकिन उन्हें 4-1 से शिकस्त झेलनी पड़ी। पहली बार ओलंपिक में खेल रहीं मणिका बत्रा ने बाकियों से बेहतर प्रदर्शन किया लेकिन 4-2 से हार गयी।

इसे भी पढ़िए :  भारता बनाम वेस्टइंडीज: तीसरे टेस्ट में भारत का शीर्ष क्रम लड़खड़ाया, 4 विकेट पर 114 रन

दिलचस्प रूप से ओलंपिक टेबल टेनिस में भारत का सफर केवल 139 मिनट या दो घंटे, 19 मिनट का रहा।

भारत के सबसे प्रसिद्ध टेबल टेनिस खिलाड़ी शरत को रोमानिया के क्रिसन एड्रियन ने 35 मिनट चले मुकाबले में 11-8, 14-12, 9-11, 11-6, 11-8 से हराया। एड्रियन एक समय दुनिया के 20 वंे नंबर के खिलाड़ी थे और इस समय शीर्ष 100 :90 वां रैंक: खिलाड़ियों में शामिल है।

इसे भी पढ़िए :  फिर दिखेगा मारिया शारापोवा का जलवा, जल्द करेंगी वापसी

पुरूष वर्ग के दूसरे मैच में यहीं कहानी रही। 68 वें रैंक के सौम्यजीत घोष को थाईलैंड के पडासाक तिन्विरियावेचाकुल ने 35 मिनट में 4-1 से हराया। थाई खिलाड़ी ने उन्हें 11-8, 11-6, 12-14, 11-6, 13-11 से मात दी।

इसे भी पढ़िए :  रियो ओलंपिक से बाहर किए जा सकते हैं भारतीय बॉक्सर, जानें क्यों

महिला वर्ग में दूसरी बार ओलंपिक खेलों में हिस्सा ले रहीं 34 साल की मोउमा को विश्व की 58 रैंक की रोमानियाई खिलाड़ी डेलिएला डोडिएन मोंटियेरो ने केवल 21 मिनट में 2-11, 7-11, 7-11, 3-11 से हराया।

मणिका ने दूसरी तरफ विश्व की 60 वें नंबर की पोलिश खिलाड़ी कतरज्यना फैंक्र-गरजिबोवस्का ने 48 मिनट चले मुकाबले में 12-10, 6-11, 12-14, 11-8, 4-11, 12-14 से हराया।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY