नोवाक जोकोविच की निगाहें चौथे विम्बलडन खिताब पर

0

लंदन। कैलेंडर ग्रैण्ड सल्म पर नजर जमाए विश्व के नंबर एक खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच और 22 वें ग्रैंड स्लैम की ताक में लगी अमेरीका की सेरेना विलियम्स के लिए सोमवार से शुरू हो रहे विम्बलडन टेनिस टूर्नामेंट में खिताब बचाना आसान नहीं होगा। जोकोविच इस साल ऑस्टेलियन ओपन और फ्रेंच ओपन जीत चुके हैं। लेकिन उन्हें नंबर दो ब्रिटेन के एंडी मरे और स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर से कड़ी चुनौती मिल सकती है। विश्व के पूर्व नंबर एक प्लेयर फेडरर चोट की वजह से फ्रेंच ओपन में हिस्सा नहीं ले पाए थे। लेकिन वो विम्बलडन में वापसी कर रहे हैं।
गौरतलब है कि, जोकोविच ने 2011, 2014 और 2015 में विम्बलडन ट्रॉफी अपने नाम कर चुके हैं। पेरिस में एंडी मरे पर जीत से जोकोविच अपना 12वां मेजर खिताब हासिल करने में सफल रहे, अब वह राफेल नडाल से दो और रोजर फेडरर के रिकार्ड 17 खिताब से पांच ट्रॉफियां पीछे हैं।
हालांकि नडाल कलाई की चोट के कारण इस साल के विम्बलडन में नहीं खेलेंगे।
जोकोविच को मरे से कड़ी टक्कर मिलने की संभावना है। जोकोविच ने मरे के खिलाफ पिछली 15 भिड़ंत में से 13 में जीत दर्ज की है और वह तीन साल पहले विम्बलडन के फाइनल में हारने के बाद ग्रैंडस्लैम के मुकाबले में उससे हारे नहीं हैं।
इस विम्बलडन में तीन भारतीय खिलाड़ी चुनौती पेश करेंगे। सानिया हिंगिश के साथ महिला डबल्स में खेलने उतरेंगी तो वहीं लिएंडर पेश और रोहन बोपन्ना डबल्स और मिक्स डबल्स में हाथ आजमाएंगे।

इसे भी पढ़िए :  सोशल मीडिया पर फिर घिरे रामगोपाल वर्मा, सानिया मिर्ज़ा की 'अंजरवेयर' वाली फोटो की पोस्ट

NO COMMENTS