हरियाणा में आर्थिक रूप से पिछड़े लोगों के लिए 10% आरक्षण पर रोक

0
आरक्षण
जाट आंदोलन की तस्वीर

हरियाणा में अब आर्थिक तौर पर कमजोर वर्ग को आरक्षण का लाभ नहीं मिलेगा। पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट ने राज्य सरकार द्वारा इस वर्ग के लिए जारी 10 प्रतिशत आरक्षण पर रोक लगा दी है।

इसे भी पढ़िए :  धोखा दे रहा था लड़का, लड़की ने सरेआम उतारी पति-परमेश्वर की ‘आरती’

इस आरक्षण के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई थी, जिसमें कहा गया था कि आरक्षण सामाजिक एवं आर्थिक पिछड़ेपन के आधार पर दिया जाता है, केवल आर्थिक आधार पर किसी को आरक्षण नहीं दिया जा सकता। इसके लिए याचिकाकर्ता ने सुप्रीम कोर्ट के इंदिरा साहनी केस का हवाला दिया था। इन दलीलों को मानते हुए हाईकोर्ट ने इस आरक्षण पर रोक लगा दी है।

इसे भी पढ़िए :  एयरफोर्स के जवान की कार से मिले 11 लाख रुपये, पुलिस ने धर दबोचा

गौरतलब है कि इससे पहले गुजरात सरकार ने भी इसी तरह के आरक्षण की घोषणा की थी, जिस पर हाईकोर्ट ने रोक लगा दिया था।

इसे भी पढ़िए :  यूट्यूब पर सख्त हुआ हाईकोर्ट-पढ़िए क्या कहा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY