केजरीवाल के इस फैसले का ‘आप’ ने ही किया विरोध

0

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर दिल्ली में न्यूनतम मजदूरी में बढ़ोतरी की घोषणा की थी। जिस पर AAP के ट्रेड विंग ने ही इसका विरोध किया है। ट्रेड विंग के संयोजक ब्रिजेश गोयल ने कहा कि वह पार्टी के फैसले के खिलाफ उद्योगों और व्यापारियों के साथ खड़े हैं। और अगर पार्टी इस फैसले के साथ आगे बढ़ी तो वह इसका विरोध करेंगे। इतना ही नहीं उद्योगपतियों की तरफ से धमकी भी दी गई है कि अगर न्यूनतम मजदूरी की दरें बढ़ाई गई तो वे लोग आम आदमी पार्टी को दिल्ली की सत्ता से उतार फेंकेंगे।

इसे भी पढ़िए :  फडणवीस पर उद्धव ठाकरे का तंज, कहा- मैंने प्रचार नहीं किया फिर भी शिवसेना जीती

बृजेश गोयल ने बताया कि “दिल्ली में पहले ही न्यूनतम मजदूरी दूसरे राज्यों की तुलना में 30-40% ज्यादा है ऐसे में 50% की और वृद्धि से दिल्ली में न्यूनतम मजदूरी दूसरे राज्यों की तुलना में दोगुनी हो जाएगी। इससे सारा उद्योग-व्यापार दूसरे राज्यों में जाने को मजबूर हो जाएगा। इसलिए हमने आज डिप्टी सीएम सीएम मनीष सिसोदिया और श्रम मंत्री गोपाल राय को बता दिया है कि अगर सरकार ने न्यूनतम मजदूरी बढ़ाई तो हम अपनी ही सरकार के खिलाफ आंदोलन करेंगे।”

इसे भी पढ़िए :  कैप्टन अमरिंदर ने केजरीवाल को बताया 'डरपोक', लेकिन हम उन्हें हल्के में नहीं लेंगे

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY