गए थे नौकरी मांगने, कर लिए गए किडनैप, 8 करोड़ की ठगी भी हुई

0

ग्रेटर नोएडा : मर्चेंट नेवी में भेजने के नाम पर 400 छात्रों से आठ करोड़ रुपये की ठगी का मामला प्रकाश में आया है। छात्रों को मर्चेंट नेवी में नौकरी का झांसा दिया गया था। देश के 12 अलग-अलग शहरों से छात्रों को चार दिन पहले ग्रेटर नोएडा लाया गया। यहां नॉलेज पार्क स्थित डीजीएन मैरीन एकेडमी में छात्रों को बंधक बनाकर रखा गया। उनसे बाथरूम साफ कराया गया और रात में पहरा दिलवाया गया।

इसे भी पढ़िए :  खुफिया इनपुट: राहुल गांधी की जान के पीछे कई बड़े आतंकी संगठन, सुरक्षा में लगी एजेंसियां

शुक्रवार शाम पांच बजे छात्र गेट कूदकर बंधन मुक्त हुए और मामले की सूचना पुलिस को दी। बंधन मुक्त होते ही छात्रों ने जमकर नारेबाजी की। पुलिस ने आरोपी मैरीन एकेडमी के मालिक हेमवंत सिंह चौहान को हिरासत में ले लिया है।अमृतसर, लुधियाना, इलाहाबाद, जयपुर, लखनऊ, चंडीगढ़, रोहतक, सोनीपत सहित कई अन्य जगहों से 400 छात्रों को मर्चेंट नेवी में नौकरी दिलाने का लालच दिया गया। कुछ छात्रों ने ऑनलाइन आवेदन किया, जबकि कुछ से सीधे एजेंट ने संपर्क किया।

इसे भी पढ़िए :  अमित शाह बोले- MCD की जीत दिल्ली में सरकार बनाने की नींव, बहानेबाजों को मत दो मौका

छात्रों का आरोप है कि यहां हर छात्र से दो-दो लाख रुपये लिए गए। यहां डीजीएन मैरीन एकेडमी में छात्रों को दाखिला दिया गया। छात्रों को यहां आने के बाद आभास हुआ कि उनके साथ धोखा हुआ है। चार दिन तक छात्रों को बंधक बनाकर कमरे में रखा गया। कोई छात्र बाहर निकलने की कोशिश करता तो सुरक्षाकर्मी उसे रोक लेते। किसी तरह शुक्रवार शाम कुछ छात्र गेट फांदकर बाहर आए और पुलिस को सूचना दी। छात्रों ने पुलिस से मांग की है कि उनके रुपये वापस कराए जाएं। एकेडमी के मालिक व अलीगढ़ में भाजपा नेता हेमवंत सिंह चौहान से बात करने पर उन्होंने कुछ भी कहने से इंकार कर दिया।

इसे भी पढ़िए :  अलीगढ़ में हिंदू परिवारों में दहशत, जान को बताया खतरा, घर बेचने को हैं तैयार!

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY