हैवानियत की हद! पिता ने रेप के आरोपी बेटे को बचाने के लिए ली पीड़ित की जान

0

इलाहाबाद। इलाहाबाद में रेप पीड़ित एक बच्ची की हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया है। वहीं बच्ची के परिवारवालों ने पुलिस पर मामले को दबाने का आरोप लगाया है। अंतिम संस्कार को लेकर पुलिस और परिवारवालों के बीच जमकर झड़प हुई। आरोप है कि पुलिसवाले बच्ची के शव को कब्जे में लेकर जबरदस्ती उसका अंतिम संस्कार करा रहे थे, जिसका विरोध करने पर पुलिसवालों ने परिवारवालों से मारपीट की। पुलिस का कहना है कि बच्ची का शव उसके परिवार को देने से कानून और व्यवस्था की समस्या खड़ी हो सकती थी।
घटना 28 जून रात की है, रेप पीड़ित बच्ची की उसके घर से अगवा कर हत्या कर दी गई थी। बच्ची के साथ 5 जून को बलात्कार हुआ था और परिवारवालों की काफी कोशिश के बाद 28 जून को ही मामला दर्ज हो सका था। आरोप है कि बच्ची की हत्या रेप के मामले में बयान दर्ज होने से रोकने के लिए की गई।
बताया जा रहा है कि, पड़ोस में रहने वाले 15 साल के लड़के ने इसी महीने की 5 तारीख को बच्ची के साथ रेप किया था। परिवारवालों का आरोप है कि पुलिस हफ्तों तक केस दर्ज करने में आनाकानी करती रही।
वहीं पुलिस का कहना है कि, रविवार को ही संदिग्ध आरोपी को गिरफ्तार किया गया था। आरोपी की गिरफ्तारी के दो दिन बाद पांच लोगों ने, जिसमें कथित तौर पर आरोपी का पिता भी शामिल हैं, ने रात को बच्ची को उसके घर से घसीटकर बाहर निकाला और चाकू से गोदकर हत्या कर दी। पुलिस का कहना है कि बलात्कार के आरोपी का पिता अपने बेटे को जांच से बचाना चाहता था। फिलहाल आरोपी के पिता को भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

इसे भी पढ़िए :  महिला शूटर का अपने कोच पर सनसनीखेज आरोप, रेप के बाद मारने की दी धमकी

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY