शराबबंदी के बाद भी बिहार में शराब से 12 लोगों की मौत

0
शराबबंदी

बिहार में शराबबंदी के बाद भी शराब से मौते होने की वारदाते सामने आ रही हैं। ऐसा ही एक मामला बिहार के गोपालगंज का है जहां पर शराब पीने की वजह से 12 लोगों की संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई। माना जा रहा है कि इलाके में ज़हरीली शराब बेची जाती है जिस वजह से ये मौते हुई हैं।  हालांकि अभी इसकी आधिकारिक रूप से पुष्टि नहीं हुई है। कहा ये भी जा रहा है कि बिहार में शराब की पाबंदी के बाद केस के डर से परिवार ने जल्दबाजी में शवों का अंतिम संस्कार कर दिया।

इसे भी पढ़िए :  मध्य प्रदेश: एटीएम से निकले 500 रूपये के एक तरफ से बिना छपे नोट

घटना के बाद डीएम राहुल कुमार ने पूरे मामले की जांच के लिए तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया है। उन्होंने खुद देर रात अस्पताल पहुंचकर मामले की जांच की। बहरहाल, पुलिस प्रशासन और सदर अस्पताल के चिकित्सक ने इस घटनाक्रम में जहरीली शराब पीने से हुई मौतों की पुष्टी नहीं की है। घटना के बाद से प्रशासन की एक टीम सदर अस्पताल में कैंप कर रही है।

सूत्रों के मुताबिक, गोपालगंज जिले में संदिग्ध परिस्थिति में 12 लोगों की मौत हुई है, जबकि पांच लोग गंभीर रूप से बीमार हो गए हैं और कुछ पीड़ित लोगों को इलाज के लिए गोरखपुर भेजा गया है।गोपालगंज के जिलाधिकारी राहुल कुमार ने सदर अस्पताल पहुंचकर चिकित्सकों से इस मामले पर बात की। चिकित्सकों ने बताया कि, ‘शवों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट मिलने के बाद ही मौत की वजहों के सही कारणों का पता चल सकेगा।’  मृतक के परिजनों के अनुसार, कई लोगों ने मंगलवार सुबह नगर थाना क्षेत्र के हरखुआ में संचालित एक अवैध शराब भट्ठी से शराब पी थी और दोपहर के बाद सभी की हालत बिगड़ने लगी।  परिजनों ने यह भी बताया कि, मंगलवार को इन सभी लोगों को पेट दर्द और उल्टी हुई थी। जिसके बाद सभी को सदर अपताल में भर्ती कराया गया, जहां मंगलवार देर रात सात लोगों जबकि बुधवार तड़के तीन लोगों की मौत हो गई।

इसे भी पढ़िए :  यूपी में एंटी रोमियो अभियान तो चलेगा लेकिन.. अब न कोई मुर्गा बनेगा, न मुंह काला होगा, न बाल मुंडेंगे

पुलिस के मुताबिक, सभी मृतक नगर थाना के नोनिया टोली, पुरानी चौक, हरखुआ के रहने वाले हैं, जबकि एक और मृतक उचकागांव थाना के दहिभाता का निवासी है। उल्लेखनीय है कि बिहार में शराबबंदी के बाद भी शराब की अवैध बिक्री जारी है।

इसे भी पढ़िए :  बीएमसी चुनाव में सबसे अमीर उम्मीदवार बीजेपी का, 690 करोड़ का है मालिक

 

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY