जमेशदपुर के 6 गांववालों ने मिलकर 3 पशु व्यापारियों को घेर किया मौत के हवाले

0
व्यापारियों
प्रतिकात्मक तस्वीर
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

गुरुवार को जमेशदपुर में लगभग 100 लोगों की भीड़ द्वारा 3 मवेशी व्यापारियों की हत्या करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने इस मामले में आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है। पुरा मामला सरायकेला के राजनगर इलाके का है। यहां गुरुवार को सुबह के करीब चार बजे शेख हालिम, शेख सज्जू, शेख सिराज और शेख नईम दो गाड़ियों से राजनगर इलाके से गुजर रहे थे। उस इलाके में बच्चा चोरी की कई वारदातें हो रही थीं तो लोग गलतफैमी का शिकार होकर इन  लोगो को बच्चा चुराने वाला गैंग समझ बैठे है। हेज़ल गांव के पास कुछ लोगों ने गाड़ियों को रोकने की कोशिश की लेकिन वे नहीं रुकी। इसके बाद भीड़ ने गाड़ी का पीछा कर उसे डारु गांव में जबरदस्ती रुकवा लिया।

इसे भी पढ़िए :  फिर सुलगा मुजफ्फरनगर: पुलिस पर पथराव और तोड़फोड़

 

गाड़ी के रुकते ही गुस्साई भीड़ ने सबसे पहले नईम पर हमला किया। भीड़ ने बहुत ही कठोरता के साथ नईम के साथ मारपीट की। इस मारपीट के दौरान हालिम, सज्जू और सिराज को वहां से भागने का मौका मिल गया। सुबह के करीब 6 बजे आस-पास के गांवों के लोग तीनों की तलाश करते रहे। शोभापुर गांव के पास भीड़ ने सिराज और सज्जू को भी पकड़ लिया। इसके बाद भीड़ ने उनकी भी पीट-पीटकर हत्या कर दी। पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस भीड़ में 6 गांवो के करीब 100 लोग थे जिन्होंने बहुत ही बेरहमी के साथ तीन मवेशी व्यापारियों की हत्या की।

इसे भी पढ़िए :  ‘आप’ ने एलजी पर लगाए एमएम खान के हत्यारों को बचाने का आरोप, गिरफ्तारी की मांग

अगली स्लाइड में पढ़ें बाकी की खबर

Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY