आंखे खोलिये मोदी जी, मरीज को जमीन पर खाना खिला रहा है आपका अस्पताल प्रशासन, ये तस्वीर आपको रुला देगी

0
मरीज को जमीन पर
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

रांची : अस्पताल का बजट है करीब 300 करोड़ रुपये का, लेकिन सूरते हाल ये है कि अस्पताल के पास मरीजों को खाना खिलाने के लिए थाली तक नहीं है। झारखंड के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल रिम्स में संवेदनहीनता और अमानवीयता की पराकाष्ठा देखने को मिली है। इस अस्पताल में पैसे वालों और रसूख वालों का इलाज तो फाइव स्टार कमरों में होता है, लेकिन गरीब मरीजों को ये हाई-प्रोफ़ाइल अस्पताल जमीन पर खाना खिला देता है। जमीन पर का मतलब सिर्फ़ ये नहीं कि मरीज को जमीन पर बिठा कर खाना खिलाया जाता है। जमीन पर का मतलब ये हैं कि अस्पताल प्रशासन मरीजों को खाना फर्श पर ही परोसता है। भाजपा की हुकूमत वाले झारखंड के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल से मानवता को शर्मसार करने वाली तस्वीर सामने आई है। जहां गरीब और लाचार मरीजों को थाली में नहीं फर्श पर खाना खिलाया जाता है। मरीज विरोध करते हैं तो अस्पताल का संवेदनहीन स्टाफ झिड़क देता है। संवेदनहीनता की यह पराकाष्ठा रांची के रिम्स अस्पताल में देखने को मिल रही। देश की सबसे शर्मनाक तस्वीर सामने आने पर मुख्यमंत्री रघुवर दास जिम्मेदारों पर क्या एक्शन लेते हैं, अब इस पर सभी की निगाहें टिकी हुई हैं।
तस्वीरों में देखिए- अगर भारत-पाक के बीच परमाणु युद्ध होगा तो कितना नुकसान होगा
अगले पेज पर पढ़िए – मरीजों के देख-रेख के लिए रिम्स को मिलता है कितना अनुदान

इसे भी पढ़िए :  पढ़ाई को लेकर बेटी से हुई बहस, मां बाप ने की खुदकुशी
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY