हिट एंड रन मामले में विधायक के बेटे को तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेजा गया

0

जयपुर:  राजस्थान की एक मेट्रोपॉलिटन अदालत ने सीकर जिले के फतेहपुर से निर्दलीय विधायक नंदकिशोर महरिया के बेटे सिद्धारथ महरिया को तीन दिन के रिमांड पर पुलिस को सौंप दिया है। पुलिस ने सिद्धारथ को एक दिन का रिमांड समाप्त होने पर मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट 11 की अदालत में पेश किया था।

पुलिस जांच अधिकारी कमल नयन ने बताया कि अदालत ने आरोपी को छह जुलाई तक पुलिस हिरासत में भेज दिया। आरोपी को सात जुलाई को अदालत में फिर से पेश किया जायेगा।

इसे भी पढ़िए :  चीन के सिचुआन प्रांत में भूस्खलन, 100 से ज्यादा लोगों के जिंदा दफ्न होनें की आशंका

अदालत को पुलिस ने बताया कि सिद्धारथ महरिया की कल तबीयत खराब होने के कारण उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया । इस कारण उससे पूछताछ नहीं हो सकी । इस आधार पर पुलिस ने आरोपी को रिमांड पर सौंपने की गुजारिश की जिसे अदालत ने स्वीकार कर लिया ।

उन्होंने बताया कि आरोपी का स्वास्थ्य ठीक नहीं होने के कारण उसे सवाई मानसिंह चिकित्सालय ले जाया गया है । अस्पताल से छुट्टी मिलने पर उससे पूछताछ की जायेगी।

गौरतलब है कि शनिवार की रात अशोकनगर थाना क्षेत्र के सी स्कीम इलाके में नशे की हालत में सिद्धारथ महरिया ने अपनी तेज रफ्तार बीएमडब्ल्यू कार से पहले एक ऑटोरिक्शा को टक्कर मारी जिससे इसमें सवार तीन लोगों की मौत हो गई थी और एक अन्य घायल हुआ था । इसके बाद उसने एक पुलिस वैन को टक्कर मार दी जिससे एक सहायक उपनिरीक्षक सहित चार पुलिसकर्मी घायल हो गये थे।

इसे भी पढ़िए :  वी षणमुगनाथन बने अरुणाचल प्रदेश के राज्यपाल

 

पुलिस के अनुसार आरोपी सिद्धारथ की ब्रेथ एनलाइजर की जांच में एल्कोहल की मात्रा 152 मिलीग्राम पाई गई थी, जबकि सामान्य रूप से कार चलाते समय एल्कोहल की मात्रा 30 मिलीग्राम से अधिक नहीं होनी चाहिए। हादसे के समय आरोपी की कार की गति लगभग 100 किलोमीटर प्रतिघंटा थी।

इसे भी पढ़िए :  आपस में भिड़े RLD नेता, खूब चले लात-घूंसे, देखें वीडियो

आरोपी के वकील की ओर से कल अदालत में रमेश नाम के एक चालक को पेश कर दावा किया गया था कि हादसे के समय रमेश ही कार रहा था। वहीं, पुलिस ने कहा कि कार आरोपी सिद्धारथ महरिया ही चला रहा था।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY