गोमांस के शक के चलते आपस में भिड़े दो समुदाय, आगे क्या हुआ यहां पढ़ें

0
राजौरी
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

जम्मू-कश्मीर के राजौरी में दो गुटों में मांस को लेकर हुए विवाद ने हिंसक रूप ले लिया। झगड़े की वजह से गुस्साए गुटों ने कई दुकानो को आग के हवाले कर डाला साथ ही सिक्युरिटी फोर्सेस पर पथराव किया। हालात काबू से बाहर होते ही कर्फ्यू लगा दिया गया और जिले को सेना के हवाले कर दिया गया है। गुरुवार को हालात जस के तस रहने से लोगों को घर से बाहर नहीं निकलने दिया गया।

इसे भी पढ़िए :  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पहला दिन और ये पांच बड़े फैसले... ऐसे करेंगे यूपी का उद्धार!

इस विवाद को हिंसक रूप देने के पीछे प्रशासन ने दो अफसरों खुर्शीद अहमद (नायब तहसीलदार) तथा नरवेज सिकिंद्र (टीचर) को जिम्मेदार ठहराया और उन्हे सस्पेंड कर दिया है। दरअसल, बुधवार शाम राजौरी में एक गाड़ी रोकी गई जिसमें मांस था। दूसरी कम्युनिटी के लोगों ने इसे गोवंशीय बताया। इसी बात पर माहौल खराब हुआ। लोग सड़कों पर उतर गए। देर रात तक दुकानों को आग लगाई जाती रही। गाड़ियों के एक शो-रूम को भी नुकसान पहुंचाया गया। पुलिस पर जमकर पथराव हुआ। इसके बाद राजौरी में कर्फ्यू लगा दिया गया। हालात देखते हुए इलाके को सेना के हवाले कर दिया गया है। देर रात तक कई इलाकों में प्रदर्शन जारी रहा, लेकिन सेना ने प्रदर्शनकारियों को खदेड़ दिया। 

इसे भी पढ़िए :  पर्रिकर ने उरी हमले के बाद सेना को ठोस कार्रवाई करने का दिया निर्देश
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse