बिहार: शहाबुद्दीन को उम्रकैद की सजा सुनाने वाले जज का ट्रांसफर

0
फाइल फोटो।

नई दिल्ली। हत्या के मामले में विवादास्पद राजद नेता मोहम्मद शहाबुद्दीन को उम्रकैद की सजा का फैसला सुनाने वाले अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश अजय कुमार श्रीवास्तव का तबादला पटना कर दिया गया है।

न्यायाधीश के नजदीकी सूत्रों ने बताया कि उन्होंने ‘पारिवारिक कारणों’ से अपने तबादले के लिए अनुरोध किया था और यह किसी प्रकार की ‘धमकी’ के मद्देनजर नहीं किया गया। यह तबादला एक ‘नियमित’ प्रक्रिया है। श्रीवास्तव का तबादला उसी पद पर किया गया है, जिस पद पर वह सीवान में थे।

इसे भी पढ़िए :  21 AAP विधायकों पर लटकी सदस्यता गंवाने की तलवार, सचिव ने EC को दिया 'सुविधाओं का ब्यौरा'

न्यायाधीश श्रीवास्तव ने वर्ष 2014 में दो सगे भाईयों की हत्या मामले में चश्मदीद गवाह तीसरे भाई राजीव रौशन की हत्या के मामले में 11 दिसंबर 2015 को शहाबुद्दीन को दोषी मानते हुए उन्हें आजीवन कारावास की सजा सुनायी थी।

इसे भी पढ़िए :  दिवाली के बाद बढ़ा एयर पोल्यूशन, उत्तरी भारत अव्वल

इस मामले में गत 7 सितबंर को पटना हाई कोर्ट द्वारा जमानत दे दिए जाने पर भागलपुर जेल में बंद शहाबुद्दीन गत 10 सितंबर को रिहा होकर अपने पैतृक जिला सीवान पहुंचे थे। जेल से बाहर आने पर शहाबुद्दीन के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को ‘परिस्थितियों का मुख्यमंत्री’ बताया था।

इसे भी पढ़िए :  सुप्रीम कोर्ट ने शहाबुद्दीन की जमानत नहीं की जब्त, कोर्ट में हाजिर होने का दिया आदेश

शहाबुद्दीन को जमानत मिलने के खिलाफ मशहूर वकील प्रशांत भूषण द्वारा सुप्रीम कोर्ट में अपील दायर की गयी थी। बिहार सरकार ने भी अलग से इस मामले में अपील दायर किया है। शीर्ष न्यायालय ने इसको लेकर शहाबुद्दीन को नोटिस जारी किया है। इस मामले की आगामी सोमवार को सुनवाई होगी।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY