गुमनाबी बाबा के रहस्य से जल्द उठेगा पर्दा, कमेटी गठित

0

नई दिल्ली। इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने गुमनामी बाबा की वास्तविक पहचान सामने लाने के लिये एक सदस्यीय न्यायिक आयोग का गठन किया है। राज्य सरकार ने फैजाबाद में गुमनामी बाबा उर्फ भगवान जी की असलियत जानने के लिए जांच आयोग का
गठन किया है। आयोग के अध्यक्ष सेवानिवृत्त जज न्यायमूर्ति विष्णु सहाय होंगे। आयोग छह महीने के अंदर अपनी रिपोर्ट पेश करेगा। गुमनामी बाबा का 1985 में फैजाबाद में देहांत हो गया था। कुछ लोगों का दावा है कि गुमनामी बाबा ही नेताजी सुभाषचंद्र बोस थे। इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने प्रदेश सरकार को निर्देश दिया था कि उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश की अध्यक्षता में इस मामले की जांच कराई जाए।

इसे भी पढ़िए :  इंडिगो के चार पायलटों ने शराब की बोतल के साथ खिंचवाई फोटो, जांच शुरू

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY