अरूणाचल प्रदेश के महाधिवक्ता ने इस्तीफ़ा दिया- जानिए क्यों

0
फाइल फोटो

नयी दिल्ली :भाषा: अरूणाचल प्रदेश के राज्यपाल द्वारा राज्य के महाधिवक्ता के पद से सेवा समाप्त किये जाने के छह महीने बाद वरिष्ठ अधिवक्ता रंजी थॉमस ने इस पद से अपना इस्तीफा दे दिया है और कहा कि उच्चतम न्यायालय द्वारा ‘पूर्व की यथास्थिति’ बनाये रखने और कांग्रेस सरकार को बहाल करने का निर्देश दिये जाने के बाद उनकी बरखास्तगी अवैध है।

इसे भी पढ़िए :  सुप्रीम कोर्ट ने शहाबुद्दीन के खिलाफ लिया सख्त फैसला, अब इस जेल में कटेंगी रातें

राज्यपाल जे पी राजखोवा ने 26 जनवरी को राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू किये जाने के कुछ दिन बाद दो फरवरी को एजी के पद से वरिष्ठ वकील थॉमस की सेवाएं समाप्त कर दी थीं।मुख्यमंत्री नबाम तुकी के कार्यकाल में राज्य के शीर्ष विधि अधिकारी के तौर पर सेवाएं दे चुके थॉमस ने 26 जुलाई को नवनियुक्त मुख्यमंत्री पेमा खांडू को अपना त्यागपत्र भेज दिया।थॉमस ने कहा कि राज्य में पूर्व की यथास्थिति बनाये रखने और कांग्रेस नीत नबाम तुकी सरकार को बहाल करने का निर्देश देने वाला उच्चतम न्यायालय का ऐतिहासिक फैसला संविधान के अनुरूप था।उन्होंने कहा कि नये मुख्यमंत्री को अपनी पसंद के नये महाधिवक्ता का चुनाव करने का अधिकार है।

इसे भी पढ़िए :  मंदिर की आड़ में चल रहा काले धन को सफेद करने का 'काला धंधा', देखें वीडियो

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY