बीजेपी में नेहरू की ‘एंट्री’, मुखर्जी बाहर

0
तिरंगा यात्रा के लिए लगाए गए पोस्टर।

नई दिल्ली। भाजपा के आदर्श नेताओं में सरदार वल्लभ भाई पटेल, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और डॉक्टर भीम राव अम्बेडकर के बाद अब जवाहर लाल नेहरू भी आदर्श नेता हो गए हैं? यह सवाल इसलिए, क्योंकि आम तौर पर अपने मंचों से नेहरू-गांधी परिवार की आलोचना करने वाली भाजपा के पोस्टर में इन दिनों देश के पहले प्रधानमंत्री को प्रमुखता से जगह दी गई है।

इसे भी पढ़िए :  पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री सुरजीत सिंह बरनाला का निधन

दरअसल, उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में भाजपा के प्रदेश महामंत्री पंकज सिंह की उपस्थिति में गुरुवार(18 अगस्त) को तिरंगा यात्रा के लिए जो पोस्टर भाजपा नेताओं द्वारा लगाए गए उसमें जवाहर लाल नेहरू को प्रमुखता से स्थान दिया गया है। इसलिए यह सवाल खड़ा होता है कि क्या अब नेहरू भी भाजपा के लिए आदर्श नेता हो गए हैं?

इस पोस्टर में कांग्रेस के दिग्गज नेताओं नेहरू और शास्त्री को तो प्रमुखता से स्थान दिया गया है, मगर हैरानी की बात यह है कि जिनको भाजपा अपना आदर्श मानती हैं, जिसके लिए वह नारा लगाती आई है कि ‘जहां हुए बलिदान मुखर्जी का, वह कश्मीर हमारा है’, उस श्यामा प्रसाद मुखर्जी का फोटो पोस्टर से गायब दिखाई दे रहे हैं।

इसे भी पढ़िए :  15 अगस्त पर प्रदर्शित होंगी सावरकर और अंबेडकर की फिल्में

बहरहाल, भाजपा के इस पोस्टर पर कांग्रेस ने भी चुटकी ली है। पार्टी ने कहा कि लड़ाई में जब इनके नेताओं का कोई योगदान ही नहीं रहा, तो इनकी मजबूरी है कि यह कांग्रेस के नेताओं के चित्र लगाए। कांग्रेस नेता और प्रवक्ता पीएन पुनिया ने कहा कि इनके आदर्श नेता वीर सावरकर तो अंग्रेजों की मदद कर रहे थे। जब जब तिरंगा और स्वतंत्रता की बात की जाएगी, तब तब कांग्रेसी नेता ही याद आएंगे।

इसे भी पढ़िए :  नदी में तेज लहरों की चपेट में आए दो मासूमों की दर्दनाक मौत, जिम्मेदार कौन ?

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY