कानपुर में मस्जिद के बाहर बंटे पर्चे, ‘काम नहीं, अन्याय बोलता है’

0
पर्चे
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

शुक्रवार को कानपुर के मुस्लिम बहुल इलाकों में बड़े पैमाने पर समाजवादी पार्टी विरोधी पर्चे बांटे गए। शुक्रवार की नमाज के बाद बांटे गए इन पर्चों में ‘सपा काम नहीं, अन्याय बोलता है’ हेडिंग के साथ कई गंभीर और संवेदनशील बातें लिखी हुई हैं। इसमें पांच साल में 600 दंगे और मुजफ्फरनगर, दादरी-इखलाक दंगों के अलावा कमलेश तिवारी की रिहाई और अतीक अहमद के अलावा मुख्तार अंसारी को गुंडा बताने पर भी सवाल उठाया गया है।

इसे भी पढ़िए :  UP चुनाव 2017 : 11 जिलों की 51 सीटों पर चल रही है वोटिंग, दिग्गजों की किस्मत दाव पर

कानपुर के यतीमखाना चौराहे की मस्जिद पर शुक्रवार दोपहर करीब 2 बजे नमाज अदा की जानी थी। अचानक क्षेत्र के ही कुछ बच्चों ने फोटोकॉपी किए हुए पर्चे आम लोगों को बांटने शुरू किए। चुनाव आयोग के निर्देशों के उलट पर्चे में कहीं भी प्रिंटर-पब्लिशर का जिक्र नहीं है। नमाज शुरू होने पर पर्चे बांटने का काम कुछ देर के लिए रुका, लेकिन इसके बाद दोबारा पर्चे लोगों को रोक-रोककर दिए गए।

इसे भी पढ़िए :  आजम खान डर गए महिलाओं से, मथुरा जाकर अब कभी नहीं कहेंगे 'पीएम हमें बनाओ'
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse