हैदराबाद यूनिवर्सिटी में वेमुला के बाद एक और छात्र ने की खुदकुशी

0
फोटो: साभार

नई दिल्ली। हैदराबाद विश्वविद्यालय के फाइन आर्ट्स के एक छात्र ने शुक्रवार(17 सितंबर) को तड़के अपने छात्रावास के कमरे में कथित तौर पर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने बताया कि वह संभवत: अवसाद में था। हैदराबाद विश्वविद्यालय इस वर्ष की शुरूआत में पीएचडी स्कॉलर रोहित वेमुला की आत्महत्या को लेकर सुर्खियों में रहा।

पुलिस उपायुक्त (माधापुर) कार्तिकेय ने संवाददाताओं को बताया कि नेल्ली प्रवीण कुमार (25) सरोजिनी नायडू स्कूल ऑफ आर्ट्स एंड कम्युनिकेशन के फाइन आर्ट्स विभाग में मास्टर ऑफ फाइन आर्ट्स (एमएफए) का प्रथम वर्ष का छात्र था। डीसीपी ने बताया कि अब तक उपलब्ध सूचना के मुताबिक प्रवीण पिछड़ी जाति का छात्र था।

इसे भी पढ़िए :  शिवसेना से सुलह की कोशिशें तेज, पीएम मोदी ने उद्धव ठाकरे को डीनर पर बुलाया

उन्होंने कहा कि प्रवीण के साथ रह रहा छात्र एम. राज अपने पेंटिंग स्टूडियो से लौटा और कमरे को अंदर से बंद पाया। कई बार दरवाजा खटखटाने पर प्रवीण ने जब कमरा नहीं खोला तो राज ने छात्रावास के अन्य छात्रों को इस बारे में जानकारी दी। उन्होंने दरवाजा तोड़ा और उसे (प्रवीण को) छत से फंदे से लटकता पाया।

इसे भी पढ़िए :  दो लेस्बियन बहनों ने रिलेशनशिप बनाने को किया मजबूर तो छात्रा ने उठाया ये कदम

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि ‘‘प्रवीण को तुरंत यूनिवर्सिटी के स्वास्थ्य केंद्र में ले जाया गया। चिकित्सा अधिकारी की प्रारंभिक जांच के बाद उसे निजी अस्पताल ले जाया गया। चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।’’ सूचना मिलने पर पुलिस छात्रावास पहुंची और एक दल छात्रावास के कमरे में गया और एक लैपटॉप, एक टैबलेट, दो फोन और दो नोटबुक बरामद किए।

इसे भी पढ़िए :  खुदकुशी से पहले जवान ने डायरी में लिखा- कोर्ट मार्शल से बेहतर है मर जाना

डीसीपी ने कहा कि ‘‘एक नोटबुक में एक नोट पाया गया जो समझा जाता है कि प्रवीण ने लिखा है, लेकिन लेखनी की तुलना की जानी है, जिसके लिए इसे फोरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला में भेजा जाएगा।’’ कार्तिकेय ने कहा कि नोट की विषय वस्तु के मुताबिक प्रवीण अवसादग्रस्त था और संभवत: वह ‘‘अपने खुद के प्रदर्शन की तुलना’’ कर रहा था।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY