J&K: हिंसा से परेशान टैंकरों ने किया बेमियादी हड़ताल का एलान

0
प्रतिकात्मक फोटो।

नई दिल्ली। जम्म-कश्मीर की सप्लाई से जुड़े ट्रकों के साथ तोड़फोड़ से परेशान ट्रांस्पोर्ट संगठनों ने जम्मू-कश्मीर के तीनों खित्तों की सप्लाई रोक दी है। बेमियादी हड़ताल का एलान कर ट्रक और टैंकर परिचालन के संगठनों ने साफ कहा है कि जब तक उन्हें सुरक्षा नहीं मिलेगी, तब तक सप्लाई नहीं होगा।

जम्मू-कश्मीर में जम्मू, कश्मीर और लद्दाख में सप्लाई ठप करने से न सिर्फ सिविल सप्लाई बल्कि सुरक्षा प्रतिष्ठानों को भी तेल सहित अन्य सामान पहुंचना मुश्किल होगा। आल जम्मू एंड कश्मीर ट्रक ड्राइवर्स एंड कंडक्टर्स यूनियन के अध्यक्ष खारुदीन वानी ने कहा कि यूनियन ने बेमियादी हड़ताल का फैसला किया है। पूरी रियासत में अनिश्चितकाल तक सप्लाई ठप रहेगी। ट्रकों के साथ टैंकर भी सड़क पर नहीं उतरेंगे।

इसे भी पढ़िए :  कांग्रेस से नाराज प्रशांत किशोर अब इस पार्टी के लिए बनाएंगे चुनावी रणनीति

आल जम्मू एंड कश्मीर आयल टैंकर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष आनन शर्मा ने कहा कि हमारे 14 टैंकरों को पत्थरबाजों और हिंसक भीड़ ने तोड़ दिया है। जिसमें दो टैंकर चालक गंभीर रूप से घायल हो चुके हैं। इस हड़ताल से राज्य के तमाम स्टेशनों पर पेट्रोल, डीजल और केरोसिन की सप्लाई प्रभावित होगी। अध्यक्ष ने कहा पिछले 40 दिनों में हमने बहुत कुछ बर्दाश्त कर लिया, लेकिन अब नहीं करेंगे।

इसे भी पढ़िए :  ममता सरकार के खिलाफ दर्जिलिंग में GJM का हिंसक प्रदर्शन, हजारों सैलानी फंसे

संगठनों का कहना है कि कई बार प्रशासन से अपील की गई, लेकिन टैंकरों पर हमले लगातार जारी हैं। हिंसक भीड़ टैंकरों को आसानी से निशाना बना रहे हैं। ऐसे हालात में एसोसिएशन को बेमियादी हड़ताल का फैसला लेना पड़ा है। उन्होंने कहा कि सरकार जब तक उन्हें सुरक्षा देने की व्यवस्था नहीं करती, हड़ताल जारी रहेगी। संगठनों का कहना है कि सुरक्षा देने के साथ साथ सरकार को घायल चालकों का नि:शुल्क इलाज भी करवाना होगा।

इसे भी पढ़िए :  J&K: रजौरी सेक्टर में पाक सेना ने की भारी गोलीबारी, 4 जवान घायल

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY