ये हैं वो चार हथियार जो पाकिस्तान को कर देंगे बर्बाद, पढ़िए इनकी खूबियां

0
हथियार
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

पाकिस्तान और भारत के बीच अगर युद्ध होता है कि तो भारत को कुछ ऐसे अत्याधुनिक हथियार की जरूरत पड़ेगी, जिनकी मदद से भारत पाकिस्तान को चंद दिनों में ही हिला कर रख देगा। अगल भारत को ये चार आधुनिक हथियार मिल जाएं, तो हमारा देश बड़ी से बड़ी जंग में फतह हासिल कर सकता है। मौजूदा दौर में सेना को इन चार महत्वपूर्ण हथियारों की सख्त जरूरत है –

1.असॉल्ट राइफल: सेना को लगभग 1.8 लाख नई असॉल्ट राइफलों की जरूरत है। डिफेंस मिनिस्ट्री ने जून 2015 में राइफल खरीदने के 2011 के एक प्रॉजेक्ट को रद्द कर दिया था। इस सप्ताह की शुरुआत में इसके लिए नया प्रोसेस शुरू किया गया है।

इसे भी पढ़िए :  जल्द ही भारत की सड़कों पर दौड़ेंगी टेस्ला की इलेक्ट्रिक कारें!

2.कार्बाइन: सेना के पास कार्बाइन की भारी कमी है, जिनकी जरूरत आमने-सामने की लड़ाई में होती है। कार्बाइन को चुनने के लिए 2010 के प्रोसेस का ट्रायल 2013 में हुआ था, लेकिन अभी तक किसी वेंडर को नहीं चुना गया है। सेना का कहना है कि इजरायल की IWI इसके लिए बेहतर है, लेकिन डिफेंस मिनिस्ट्री फाइनल ट्रायल के लिए केवल एक वेंडर को चुने जाने से चिंतित है।

इसे भी पढ़िए :  ये है बैटरी से चलने वाली मर्सिडीज - मैबेक 6

3.होवित्जर: 1980 के दशक में बोफोर्स घोटाले के बाद से कोई मॉडर्न जेनरेशन आर्टिलरी गन नहीं खरीदी गई है। अभी इसके लिए K9 वज्र T होवित्जर और M 777 अल्ट्रा लाइट होवित्जर के दो एक्विजिशन प्रोजेक्ट्स पर काम चल रहा है, लेकिन अभी तक कोई डील साइन नहीं की गई है।

इसे भी पढ़िए :  अब 1 लीटर में 200 किलोमीटर की दूरी तय करेगी आपकी गाड़ी

4.एंटी-एयरक्राफ्ट गन: सेना पुरानी L70/ZU 23 गनों को बदलना चाहती है। ये 1960 के दशक से सेना के पास हैं। नई एंटी-एयरक्राफ्ट गन खरीदने का काम 2012 में उस समय अटक गया था जब जर्मनी की मैन्युफैक्चरर रेनमेटाल पर भ्रष्टाचार की वजह से प्रतिबंध लगाया गया था।

अगले स्लाइड में वीडियो में देखिए – भारतीय सेना को मजबूती देने वाले 7 सबसे बड़े आधुनिक हथियार

Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY