भारतीय ने बनाया 64 ग्राम का सैटेलाइट, लॉन्च करेगा नासा

0
सैटेलाइट

महज 18 साल की उम्र के रिफत शाहरुख ने 64 ग्राम का सैटेलाइट बनाकर सबको चौंका दिया है. ताज्जुब की बात ये है कि रिफत के इस सैटेलाइट को नासा लांच करने जा रहा है.तमिलनाडु के रहने वाले रिफत ने अपने इस सबसे कम वजनी सैटेलाइट को पूर्व राष्ट्रपति और वैज्ञानिक एपीजे अब्दुल कलाम को ट्रिब्यूट कर ‘कलामसैट’ नाम दिया है. रिफत तमिलनाडु के पल्लापट्टी का रहने वाला है.

इसे भी पढ़िए :  वेश्यालयों में लड़कियों की जगह लेंगे रोबॉट

रिफत का कहना है कि सैटेलाइट का मुख्य काम थ्रीडी प्रिंटेड कार्बन को फाइबर की क्षमता को प्रदर्शित करना है. उनका कहना है कि कलामसैट रेनफोर्स्ड कार्बन फाइवर पॉलीमर से बना हुआ है. रिफत के अनुसार इस सैटेलाइट में कुछ सामान विदेशी भी लगाया गया है.ऐसा दावा किया जा रहा है कि ये पहला मौका होगा जब नासा किसी भारतीय छात्र के बनाए सैटेलाइट को लांच करेगा. 21 जून को इस सैटेलाइट को लांच किए जाने की चर्चाएं हैं. खास बात ये है कि रिफत का ये सैटेलाइट क्युब्स इन स्पेस नाम से हुई प्रतियोगिता के दौरान रोशनी में आया था. ये प्रतियोगिता आई डूडल लर्निंग संस्था और नासा ने आयोजित की थी.

इसे भी पढ़िए :  व्हाट्सएप फेसबुक से शेयर करेगा आपका मोबाइल नंबर

रिफत की इस कामयाबी के बाद से लोगों में खुशी है. एक बार फिर से तमिलनाडु को एपीजे अब्दुल कलाम और रिफत से जोड़ते हुए याद किया जा रहा है.

इसे भी पढ़िए :  ये है बैटरी से चलने वाली मर्सिडीज - मैबेक 6

NO COMMENTS