ऑस्ट्रेलिया में भारतीय पादरी पर चाकू से हमला, हमलावर ने मारने से पहले पूछा- ‘किस देश से हो’?

0
ऑस्ट्रेलिया

ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न में भारतीय मूल के फादर पर चर्च में प्रार्थना के दौरान चाकू से हमले का मामला सामने आया है। हमलावर एक इतालवी नागरिक था और उसने किचन में काम आने वाले चाकू से फादर की गर्दन पर अटैक किया और वहां से फरार हो गया। घटना रविवार को सामूहिक प्रार्थना के दौरान हुई।

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार व्यक्ति के द्वारा पादरी पर इसलिए हमला किया गया क्योंकि वह भारतीय मूल का था, उसे लगा कि वह या तो वह हिंदू हैं या मुस्लिम। इसी कारण उन पर हमला किया गया।

इसे भी पढ़िए :  हम बलूचिस्तान की स्वतंत्रता का समर्थन नहीं करते: अमेरिका

रविवार को 11वें इटालियन भाषा के संबोधन में जाने से पहले पादरी की गर्दन पर वार किया गया, पादरी टॉमी को अभी अस्पताल में भर्ती किया गया है। फिलहाल उनकी हालत स्थिर है वहीं भासी हमलावर को मेलबर्न पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है । मेलबर्न थमैरसिरी प्रिस्ट एरिया के पब्लिक रिलेशन ऑफिसर अब्राहम कविलपुरा येदिथल ने बताया कि भारत में कोझिकोड़ के करिम्बू के रहने वाले फादर टॉमी सेंट मैथ्यू पैरिश, मेलबर्न में चार साल से रह रहे थे।

इसे भी पढ़िए :  BREAKING NEWS: नेपाल में भूकंप के झटके, रिक्टर स्कैल पर 5.0 रही तीव्रता

इस मामले पर सीनियर कॉन्स्टेबल रायनन नॉर्टन के मुताबिक, “इस स्थिति में हमें लगता है कि घटना कुछ अलग तरह की है। हमें नहीं लगता कि वो किसी और के लिए खतरा बनेगा।”

मेलबर्न में कैथोलिक चर्च के स्पोक्सपर्सन शेन हीली ने घटना को डर पैदा करने वाला बताया। शेन के मुताबिक, “किसी भी शख्स के साथ इस तरह का बर्ताव नहीं होना चाहिए। टॉमी लोगों के लिए अच्छा काम कर रहे हैं। ये कैथोलिक पादरियों को इन्सपिरेशन देने वाला है।”

इसे भी पढ़िए :  'SUPER DANCER' का ये वीडियो देखकर आप भी रो पड़ेंगे

गौरतलब है कि पिछले कई दिनों से ऑस्ट्रेलिया और अमेरिका जैसे देशों में भारतीयों पर हमलों में बढ़ोतरी हुई है। उधर ऑस्ट्रेलिया में एक और भारतीय पर हुई हमले की इस घटना पर दिल्ली कैथोलिक आर्कडॉयोसिस के प्रवक्ता सविरमुथ्थु संकर ने कहा कि इस तरह की घटनाएं चिंताजनक हैं और भारत सरकार को चाहिए कि दूसरे देशों से बात कर इस तरह के अपराधों को रोकने के प्रयास करें।

 

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY