सार्क सम्मेलन में शामिल नहीं होने का भारत का फैसला ‘दुर्भाग्यपूर्ण’: पाक

0
फाइल फोटो।

नई दिल्ली। पाकिस्तान ने दक्षेस शिखर सम्मेलन में भाग नहीं लेने के भारत के निर्णय को  ‘दुर्भाग्यपूर्ण’ करार दिया है। यह सम्मेलन आगामी नवंबर महीने में इस्लामाबाद में होना है।

पाकिस्तानी विदेश विभाग के एक प्रवक्ता ने मंगलवार(27 सितंबर) को कहा कि पाकिस्तान ने भारतीय प्रवक्ता के उस ट्वीट का संज्ञान लिया है जिसमें भारत ने यहां आयोजित होने वाले 19वें दक्षेस शिखर सम्मेलन में भाग नहीं लेने की घोषणा की है।

इसे भी पढ़िए :  मीडिया को रोका गया, लंच के लिए बुला कर खुद निकल गए थे पाकिस्‍तानी मंत्री- राजनाथ

प्रवक्ता ने देर रात जारी बयान में कहा कि ‘‘हमें इस संदर्भ में कोई आधिकारिक सूचना नहीं मिली है, लेकिन भारत की घोषणा दुर्भाग्यपूर्ण है।’’ पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि ‘‘जहां तक भारत के बहाने का सवाल है तो पूरी दुनिया जानती है कि भारत पाकिस्तान में आतंकवाद को सहायता और वित्तीय मदद दे रहा है।’’

इसे भी पढ़िए :  श्रीलंका भी नहीं लेगा सार्क सम्मेलन में हिस्सा

उन्होंने आरोप लगाया कि ‘‘भारतीय खुफिया एजेंसी रॉ के अधिकारी कुलभूषण यादव का कबूलनामा जिंदा सबूत है और कई दूसरे सबूत भी हैं। भारत ने संप्रभु देश पाकिस्तान के आंतरिक मामलों में दखल देकर अंतरराष्ट्रीय नियम और संयुक्त राष्ट्र चार्टर का उल्लंघन किया है।’’

पाकिस्तानी प्रवक्ता ने कहा कि पाकिस्तान शांति और क्षेत्रीय सहयोग को लेकर प्रतिबद्ध बना हुआ है। उन्होंने कहा कि ‘‘हम इस क्षेत्र के लोगों के व्यापक हित में इस दिशा में काम करते रहेंगे।’’

इसे भी पढ़िए :  उरी हमले पर सामने आया पाकिस्तान मीडिया का शर्मनाक चेहरा, खुलेआम किया पाक का बचाव

दरअसल, भारत ने फैसला किया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस्लामाबाद में नवंबर में होने वाले दक्षेस शिखर सम्मेलन में भाग नहीं लेंगे। इस फैसले की घोषणा करते हुए भारत ने मंगलवार(27 सितंबर) की रात कहा कि ‘‘एक देश’’ ने ऐसा माहौल बना दिया है जो शिखर सम्मेलन के सफल आयोजन के अनुकूल नहीं है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY